दरगाह शरीफ में मनाया गया सालाना उर्स,चादर पेश कर मांगी गई मन्नते

 








मेरठ।मवाना क्षेत्र के बिरानारोड स्थित माई रुकसाना शाह की मजार पर सालाना उर्स बड़ी धूमधाम से मनाया गया।
मिली जानकारी के अनुसार माई रुकसाना शाह की मजार पर रविवार 20 नवंबर को हर्षोल्लास के साथ सालाना उर्स मनाया गया है।दूरदराज से आये जायरिनों ने माई रुकसाना की मजार पर फुलों की चादर पेश कर कलाम पाक की तिलावत की।मियां सराजुद्दीन शाह ने बताया कि माई रुकसाना शाह का पहला सालाना उर्स 20 नवंबर को मवाना में मनाया गया है।जिसमें प्रदेश सहित अन्य राज्यों से जायरिनों ने सिरकत की ओर माई रुकसाना की मजार पर रविवार शाम को चादर पेश की गई,एवं रात्रि में कव्वाली का आयोजन किया गया।ओर उर्स के मौके पर सूफी खलिफाओ को पटका पहनाकर सम्मानित किया गया।उन्होंने बताया कि खतौली शरीफ फैरुलाह शाह दरगाह के गद्दी नशीम हासिम मियां ने सोमवार सुबह को अमन और शांति के लिए दुआ कराई।उसके बाद तबर्रुक का वितरण किया गया।ओर उर्स में सिरकत करने वाले जायरीन सोमवार सुबह अपने-अपने गंतव्य की ओर निकल गये।खलिफा अफजाल ने बताया कि मजार कमेटी की ओर से माई रुकसाना शाह की मजार पर सजावट की गई।तथा रात्रि में नजम कव्वाली का प्रोग्राम कराया गया,जिसमें खलील साबरी कव्वाल ने नाथ पेश की ओर सालाना उर्स में दूर-दराज से आए सूफी सुफियान का ठहरने व जल पान का इन्तेज़ाम अटोरारोड पर कराया गया।इस अवसर पर खतौली शरीफ फैरुलाह शाह दरगाह के गद्दी नशीम हासिम मियां,मियां जिन्दे,मियां अमीर हसन,मियां डा० कय्युम,मियां जमशेद,मियां नजर हसन,मियां इकबाल,मियां शाहनवाज,मियां फैय्याज एवं खलिफाओ-मे नूरमोहम्मद,सपीक,हसीन,इजहा,हाजी इकराम,असगर,शराफत अली,नजर,फारुक,गियासुद्दीन,अफजाल,असगर,इस्लामुद्दीन सहित मुरिदोमें-लियाक्त,अनवर,जाहिद,आकिल,सराजु,नजरहसन,राशिद,गुलफाम,महमूद,सलाउद्दीन,अकरम,गफ्फार,यासीन,सत्तार,इन्तजार,सौकत,युसूफ,मुसारिक सहित आदि सैकड़ों जायरिन उपस्थित रहे।

Popular posts from this blog

शादी में दिखावे की हदे पार, लड़की पक्ष ने विवाह स्थल पर लगवाया फ्लैस्क, लिखा :- गाडी के साढे 7 लाख नकद दिए दूल्हे को

इस्लामिया इंटर कालिज के वजूद पर खतरा मंडराया

समाज को शिक्षित व सुरक्षित रखने का संदेश दिया