रिपॉस ने एक अनूठे एनर्जी फिनटेक प्लेटफॉर्म को किया लॉन्च

 


नोएडा। रिपॉस को भारत में जन-जन तक विभिन्न तरह की ऊर्जा पहुंचाने के मामले में एक अग्रणी कंपनी के तौर पर देखा जाता है। कंपनी के 2000 से अधिक साझेदार हैं और कंपनी देश के 220 से भी अधिक शहरों में कार्यरत है। फिनटेक के तहत रिपॉस ने रिपॉस पे को लॉन्च कर दिया है, जो एक अनूठा एनर्जी क्रेडिट फिनटेक प्लेटफॉर्म है। इससे ऊर्जा के वितरण के क्षेत्र में एक क्रांति आ जाएगी। उल्लेखनीय है इस टेक टूल को मुम्बई में पिछले महीने लॉन्च किया गया था, रिपॉस ने अपने नवीनतम टेक्नोलॉजी टूल डेटम को नोएडा में लॉन्च किया है। इस सिटी लॉन्च के मौके पर ट्रांसपोर्टर और बैंकर भी मौजूद थे। 

रिपॉस के को-फाउंडर और चीफ फिनटेक आॅफिसर अपराजित सुब्रह्मण्यम ने कहा, अत्याधुनिक टेक्नोलॉजी से लैस रिपॉस पे ईंधन खरीदने वाले उपभोक्ताओं की मांग की ही आपूर्ति नहीं करता है, बल्कि ऋण प्रदान करने वाले बैंकों और फिनटेक कंपनियों के लिए कर्ज़ प्रबंधन प्लेटफॉर्म के तौर पर भी काम करता है। रिपॉस के संस्थापक और सीईओ चेतन वालुंज कहते हैं, नोएडा जैसे शहर में रिपॉस पे को लॉन्च करने का मुख्य मकसद छोटे शहरों में बैंकिंग और अन्य वित्तीय संस्थानों की सेवाओं से वंचित लोगों तक अत्याधुनिक वित्तीय उत्पादों को पहुंचाना है। गौरतलब है कि रिपॉस आपूर्ति और मांग की खाई को कम करने की दिशा में कार्यरत है और डेटम के माध्यम से डिजल से शुरू करते हुए उपभोक्ताओं के दरवाजे तक ईंधन पहुंचाने के लिए प्रयासरत है। रिपॉस पर्यावरण संरक्षण के अनुकूल ऊर्जा की वितरण प्रणाली के निर्माण के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है जो इस लॉन्च से पूरी तरह से स्पष्ट हो जाता है. रिपॉस आधुनिक टेक्नोलॉजी की मदद से सभी तरह की ऊर्जा को एंड कंज्यूमर के दरवाजे तक पहुंचाने संबंधी ठोस व्यवस्था कर राष्ट्रीय निर्माण में अपना योगदान देने के लिए तैयार है। उल्लेखनीय है कि 2017 में स्थापना के समय से ही रिपॉस ऊर्जा संबंधी ई-कॉमर्स की मदद से कार्बन-मुक्त भविष्य के निर्माण के लिए लगातार प्रयत्नशील रहा है कंपनी सभी तरह की ऊर्जा -तरल, गैस और बिजली को मोबाइल ऊर्जा वितरण के माध्यम  से आम लोगों तक पहुंचाने का इरादा रखती है। इसके लिए कंपनी की ओर से टेक्नोलॉजी से लैस रिपॉस मोबाइल फ़्यूल पम्प जैसे वाहनों का सहारा लिया जा रहा है. आधुनिक ढंग से मोबाइल ऊर्जा वितरण के लिए रिपॉस को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा नैशनल स्टार्ट-अप अवॉर्ड 2021 से नवाजा गया था. रिपॉस को अब तक तीन राष्ट्रीय और एक अंतर्राष्ट्रीय पेटंट (153 देशों में प्रकाशित) हासिल हो चुके हैं. रिपॉस के बारे में फोर्ब्स इंडिया मैगजीन में भी विस्तार से एक विशेष फीचर प्रकाशित किया गया था. रिपॉस को यूरोप के सबसे बड़े स्टार्ट-अप और टेक इवेंट-विवा टेक्नोलॉजी 2022 में भारत का प्रतिनिधित्व करने का भी गौरव हासिल हो चुका है।

इन्होंने कहा

रिपॉस की संस्थापक और चीफ विजनरी आॅफिसर अदिति भोसले वालुंज कहती हैं, नोएडा में रिपॉस पे से कैशलेस इकोनॉमी के चलन को बढ़ावा मिलेगा और समाज के निचले तबके को टेक्नोलॉजी आधारित वित्तीय व्यवस्था में समाविष्ट करना आसान हो जाएगा. रिपॉस पे से भुगतान की प्रक्रिया पहले से और आसान और सुरक्षित हो जाती है. हमारा फिनटेक प्लेटफॉर्म रिपॉस के लिए ऊर्जा के वित्तीय प्रणाली को आधुनिक बनाने का अवसर प्रदान करता है. हमारा मानना है कि फिनटेक नवीकरणीय ऊर्जा में निवेश के मौकों का निर्माण करता है और प्रोडक्शन, वित्तीय विश्लेषण और पोर्टफोलियो परफॉर्मेंस के ब्रेक-डाउन में कारगर साबित होता है।

Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद

शादी में दिखावे की हदे पार, लड़की पक्ष ने विवाह स्थल पर लगवाया फ्लैस्क, लिखा :- गाडी के साढे 7 लाख नकद दिए दूल्हे को