टाटा सॉल्ट ने शुरू किया नया अभियान ‘हर नारंगी पैक टाटा नमक नहीं होता’

 

गाजियाबाद। भारत में नमक आयोडाइज़ेशन मुहीम के एक अग्रणी टाटा सॉल्ट ने उत्तर प्रदेश में एक नया विज्ञापन अभियान शुरू किया है। हर नारंगी पैक टाटा नमक नहीं होता, इस नयी टीवीसी में टाटा सॉल्ट जैसे दिखने वाले नकली उत्पादों के बजाय असली उच्च गुणवत्ता वाले टाटा नमक को चुनना महत्वपूर्ण होने पर प्रकाश डाला गया है।

टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स की प्रेसिडेंट पैकेज्ड फूड्स इंडिया सुश्री दीपिका भान ने कहा, नकली और जाली ब्रांड उपभोक्ताओं के स्वास्थ्य के लिए चिंता का कारण बन सकते हैं, एक जैसे दिखने वाले ब्रांड्स में ऐसे लेबल होते हैं जो अक्सर टाटा नमक की तरह दिखते हैं और उपभोक्ता गलती से उन्हें उठा लेते हैं। वैक्यूम इवापोरेटेड टाटा नमक में जो लाभ और गुणवत्ता मिलती है, वो इन नकली ब्रांड्स में नहीं मिल सकती। सही टाटा नमक को ही अपनाकर अपनी भलाई और स्वास्थ्य के लिए सही उत्पाद चुनने के बारे में दुकानदारों, व्यापारियों और उपभोक्ताओं को जागरूक करने के लिए हमने उत्तर प्रदेश में यह नया 360-डिग्री मार्केटिंग अभियान शुरू किया है।” अभियान का उद्देश्य उपभोक्ताओं के बीच जागरूकता पैदा करना है कि वे टाटा नमक जैसे दिखने वाले उत्पादों के झांसे में न आएं और अच्छी तरह से देखकर सोच-समझकर सही चुनाव करें।

ग्राहकों को सूचित और सचेत करने के लिए बनाई गयी अभियान फिल्मों में सेलिब्रेटी और इस क्षेत्र में काफी जानेमाने रवि किशन ने सिर्फ असली टाटा नमक को ही अपनाने के लाभों को प्रभावी ढंग से लोगों के सामने रखा है नकली उत्पादों के झांसे में आने के खिलाफ ग्राहकों को सावधान किया गया है और अपने परिवार की भलाई के लिए अच्छी तरह से देखकर, सोच-समझकर उत्पाद चुनने का आग्रह किया गया है कई भाषाओं में बनाए गए विज्ञापन उत्तर प्रदेश और आसपड़ोस के क्षेत्रों में दिखाए जा रहे हैं।

Popular posts from this blog

शादी में दिखावे की हदे पार, लड़की पक्ष ने विवाह स्थल पर लगवाया फ्लैस्क, लिखा :- गाडी के साढे 7 लाख नकद दिए दूल्हे को

इस्लामिया इंटर कालिज के वजूद पर खतरा मंडराया

समाज को शिक्षित व सुरक्षित रखने का संदेश दिया