शोभित विश्वविद्यालय ने किया अंतरराष्ट्रीय स्पोर्ट शूटर शार्दुल विहान को सम्मानित

 शोभित विश्वविद्यालय  मेरठ में  अंतरराष्ट्रीय स्पोर्ट शूटर शार्दुल विहान को सम्मानित करने के लिए सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। समारोह की शुरुआत दीप प्रज्वलित कर की गई। कार्यक्रम की शुरुआत में शार्दुल विहान एवं उनके माता पिता को पुष्पमाला भेंट कर उनका  स्वागत किया गया। 



कार्यक्रम की शुरुआत में  स्वागत संबोधन करते हुए स्कूल ऑफ बिजनेस स्टडीज विभाग के निदेशक डॉ अशोक गुप्ता  ने बताया कि  शार्दुल विहान शोभित विश्वविद्यालय के नाइस स्कूल ऑफ बिजनेस स्टडीज विभाग का  बीबीए का छात्र है।  शार्दुल विहान ने हाल ही में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जर्मनी में आयोजित आईएसएसएफ वर्ल्ड कप जूनियर में सिल्वर  मेडल प्राप्त किया है। इससे पहले खेलो इंडिया इंटर यूनिवर्सिटी गेम्स में भी ब्रोंज मेडल प्राप्त किया। इसके अलावा भी शार्दुल विहान के नाम अनेकों मेडल हैं जिसमें एशियन गेम्स 2018 में सिल्वर मेडल, साउथ कोरिया में आयोजित आईएसएसएफ वर्ल्ड चैंपियनशिप ब्रोंज मेडल, आईएसएसएफ वर्ल्ड चैंपियनशिप मास्को रसिया में गोल्ड मेडल, जूनियर ग्रैंड प्रिक्स वर्ल्ड इंटरनेशनल चैंपियनशिप जर्मनी में आयोजित में गोल्ड मेडल, फिनलैंड में आयोजित 9 इंटरनेशनल जूनियर शॉट गन कप में गोल्ड मेडल जैसे अनेकों प्रतियोगिताओं में  मेडल प्राप्त किए हैं।

शार्दुल विहान की इस प्रतिभा का सम्मान करते हुए शोभित विश्वविद्यालय  प्रांगण में विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो  ए पी गर्ग, प्रति कुलपति प्रो  जयानंद,  विभाग के निदेशक डॉ अशोक गुप्ता द्वारा प्रतीक चिन्ह एवं शाल भेंट कर सम्मानित किया गया। इसके अलावा इस अवसर पर शार्दुल विहान के पिता श्री दीपक विहान एवं उनकी माता जी मंजू विहान  जी को भी प्रतीक चिन्ह एवं शाल भेंट कर सम्मानित किया गया।

 कार्यक्रम के दौरान विश्वविद्यालय के कुलाधिपति श्री कुंवर शेखर विजेंद्र जी ने भी ऑनलाइन के माध्यम से शार्दुल विहान को अपनी शुभकामनाएं प्रेषित  कर बधाई दी। इस अवसर पर उपस्थित विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर ए पी गर्ग ने शार्दुल विहान को बधाई देते हुए कार्यक्रम में उपस्थित सभी छात्रों को बताया कि आज के समय में छात्र किसी भी क्षेत्र में अपना भविष्य बना सकते हैं जिसका  सबसे अच्छा उदाहरण शार्दुल विहान है जिसने शूटिंग स्पोर्ट  को अपना कैरियर बनाया और कड़ी मेहनत कर आज अपना नाम देश का झंडा ऊंचा करने वाले चुनिंदा लोगों में दर्ज करा लिया। उन्होंने कहा कि शोभित विश्वविद्यालय अपने छात्रों को विभिन्न कार्य क्षेत्र में जाने के लिए प्रोत्साहित करता है तथा हर संभव सहायता उन्हें प्रदान करने के लिए तत्पर है।  प्रति कुलपति प्रोफेसर जयानंद ने  शार्दुल के माता-पिता की  प्रशंसा करते हुए कहा कि जब कोई छात्र किसी भी क्षेत्र में जाने का अंतिम निर्णय लेता है उस समय जो माता पिता अपने बच्चों का साथ देते हैं ऐसे छात्र एवं बच्चे आगे चलकर माता पिता के साथ साथ देश का नाम भी  ऊंचा करते हैं।  इसलिए शार्दुल विहान की सफलता के पीछे उनके माता-पिता का विशेष योगदान है। कार्यक्रम का संचालन डॉ नेहा वशिष्ठ द्वारा किया गया इस  अवसर पर  कुलसचिव डॉ गणेश भारद्वाज,डीन इंजीनियरिंग  डॉ तरुण शर्मा, डॉ मोहम्मद इमरान, डॉक्टर आरके जैन, डॉ अभिषेक  डबास,  डॉ दिव्या प्रकाश,  डॉ निधि त्यागी, डॉ ममता बंसल, अभिनव पाठक,  डॉ नेहा यजुर्वेदी, डॉ अनुज गोयल, डॉ प्रीति गर्ग, गार्गी चौधरी, आशीष धीमन एवं अन्य विभागों के शिक्षक एवं छात्र मुख्य रूप से उपस्थित रहे। 



Popular posts from this blog

शादी में दिखावे की हदे पार, लड़की पक्ष ने विवाह स्थल पर लगवाया फ्लैस्क, लिखा :- गाडी के साढे 7 लाख नकद दिए दूल्हे को

इस्लामिया इंटर कालिज के वजूद पर खतरा मंडराया

समाज को शिक्षित व सुरक्षित रखने का संदेश दिया