विक्स कफ ड्रॉप्स ने रणवीर के साथ युवाओं से की बिना खिच-खिच बोलने की अपील

 


मेरठ। जुकाम और बुखार से राहत दिलाने में भारत के अग्रणी ब्रांड विक्स ने ब्रांड एंबेसडर रणवीर सिंह के साथ नई कैंपेन फिल्म पेश की। नई कैंपेन फिल्म में रोनित रॉय भी हैं और यह फिल्म 'विक्स की गोली खोल दे बोली' के जरिये खिच-खिच मुक्त आवाज देने के विक्स के मशहूर संदेश को वापस लाई है। 

प्रॉक्टर एंड गैंबल में वरिष्ठ निदेशक और पर्सनल हेल्थकेयर कैटेगरी प्रमुख साहिल सेठी ने कहा, विक्स कफ ड्रॉप्स पीढ़ियों से भारतीयों को खिच-खिच से राहत दिलाती आ रही हैं। खिच-खिच दूर करने और आत्मविश्वास के साथ बोलने में मदद करने में हमारा यकीन है। इस कैंपेन फिल्म के जरिये हमारा मकसद वह आत्मविश्वास दिखाना है, जो विक्स की गोली किसी व्यक्ति को गले में परेशानी के बगैर खुलकर बोलने के लिए दे सकती है। पब्लिसिस सिंगापुर के क्रिएटिव डायरेक्टर मिहिर धैर्यवान ने कैंपेन फिल्म के बारे में कहा, यह गोली गला साफ करती है ताकि आप अपनी मर्जी से बोल सकें। रणवीर सिंह वह व्यक्ति हैं, जो कभी अपनी बात कहने से हिचकते नहीं हैं। विक्स इंडिया और पब्लिसिस सिंगापुर द्वारा तैयार इस फिल्म का मकसद लोगों को अपने सपनों के लिए खड़े होने की प्रेरणा देना और यह दिखाना है कि खिच-खिच के बगैर बातचीत कैसे लोगों को अपनी बात बेहिचक कहने में मदद करती है। पिता-पुत्र बने रोनित रॉय और रणवीर सिंह इस फिल्म में रणवीर के करियर के बारे में बात करते दिखते हैं। रणवीर अपनी इच्छा बताना चाहते हैं मगर, उनके गले में खिच-खिच रुकावट पैदा करती है। 'विक्स की गोली' की मदद से रणवीर अपने खास जोशीले अंदाज में अपने पिता को बताते हैं कि उन्हें कौन सा करियर पसंद है। रणवीर बताते हैं कि विक्स ने कैसे उन्हें खिच-खिच दूर करने और पूरे भरोसे के साथ अपने सपनों के बारे में बताने में मदद की। सुपरस्टार रणवीर सिंह ने कैंपेन के बारे में कहा, मैं इस कैंपेन फिल्म के जरिये युवाओं को दिए जा रहे संदेश का समर्थन करता हूं। विक्स कफ ड्रॉप्स ऐसा ब्रांड है, जो मेरे बचपन का हिस्सा रहा है और अब भी मेरा सहारा है। साथ मिलकर हम निश्चित रूप से दुनिया को खिच-खिच मुक्त बनने का और पूरे भरोसे के साथ अपनी मंजिल हासिल करने का हौसला दे सकते हैं। ब्रांड के साथ अपने जुड़ाव पर रोनित रॉय ने कहा, सर्दी और खांसी से निजात पाने के लिए मैं और मेरा परिवार कई पीढियों से विक्स पर भरोसा करता आया है। यही वजह है कि इस फिल्म में काम करना मेरे लिए शानदार अनुभव रहा। यह फिल्म खिच-खिच को अपनी मनचाही मंजिल पाने के रास्ते में आड़े नहीं आने देने का जो संदेश और विचार युवाओं को देती है, उसमें मुझे पक्का यकीन है।

Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

शादी में दिखावे की हदे पार, लड़की पक्ष ने विवाह स्थल पर लगवाया फ्लैस्क, लिखा :- गाडी के साढे 7 लाख नकद दिए दूल्हे को

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद