शोभित विवि में एक दिवसीय अंर्तराष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन

 


मेरठ। शोभित इंस्टिट्यूट आॅफ इंजीनियरिंग एवं टेक्नोलॉजी (डीम्ड-टू-बी-यूनिवर्सिटी) में एडवांसेज इन बायोलॉजिकल इंजीनियरिंग एंड साइंस फॉर सस्टेनेबल सॉल्यूशन शीर्षक पर एक दिवसीय अंर्तराष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता शोभित विवि के कुलाधिपति कुंवर शेखर विजेंद्र द्वारा की गई, जिन्होंने कोरोना काल के पश्चात बायोलॉजिकल इंजीनियरिंग एंड साइंस के क्षेत्र में नई संभावनाओं के विषय पर अपने विचार प्रस्तुत किए।

कुलपति प्रो. अजय राणा ने विश्वविद्यालय में चल रहे विभिन्न शोध के बारे में जानकारी साझा की, उन्होंने देश विदेश से जुड़े शिक्षाविदों एवं शोधकतार्ओं की सेमीनार में सम्मिलित होने के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया। प्रो. डॉ. एपी गर्ग, डीन रिसर्च द्वारा सस्टेनेबल डेवलपमेंट के अंतर्गत निर्धारित विभिन्न लक्ष्यों को विस्तारपूर्वक समझाया। सेमिनार के मुख्य वक्ता प्रोफेसर मालवेंदु जाना, रश यूनिवर्सिटी आॅफ मेडिकल सेंटर युएसए ने कोविड-19 की रोकथाम से जुड़े महत्वपूर्ण योजनाओं पर प्रकाश डाला।  इन्होंने विभिन्न रोगों के मॉलिक्यूलर क्रियाविधि को भी समझाया। प्रोफेसर जयानंद, रिसर्च  डीन नोएडा इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी ने इलेक्ट्रो मैग्नेटिक फील्ड थेरेपी के बारे में जानकारी प्रस्तुत की और उससे जुड़े चुनौतियों के बारे में रोचक तथ्य को बताया।  व्याख्यान में डॉ. अंशुमान मिश्रा, स्वीडन ने क्लीनिकल रिसर्च पर अपना व्याख्यान प्रस्तुत किया। डॉ. स्वीटी, रमैया इंस्टीट्यूट आॅफ मेडिकल साइंस रिसर्च, बंगलौर न्यूरो साइंस रिसर्च फॉर   न्यूरोफीडबैक के बारे में जानकारी दी। इस सेमिनार में देश विदेश से लगभग डेढ़ सो  प्रतिभागियों ने भाग लिया एवं अपने शोध कार्यों को प्रस्तुत किया  इस सेमिनार के सफलतापूर्वक समापन पर विश्वविद्यालय के कुलसचिव, ग्रुप कैप्टन मित्रानंद बहुगुणा ने सभी आयोजकों को धन्यवाद ज्ञापित किया। सेमिनार को सफल बनाने में कार्यक्रम के संयोजक डॉ. सुब्रता दास, डॉ. सुदेश शुक्ला, डॉ. मनीषा रस्तोगी, डॉ. संदीप कुमार, डॉ. अल्पना जोशी, डॉ. शिवा शर्मा, डॉ. अनिकेत  कुमार, आॅगेर्नाइजिंग सेक्रेट्रीज डॉ. संयोगिता चौधरी, रूपेश कुमार, अनुपमा चौधरी, डॉ. दीपिका अरोड़ा, डॉ. दिनेश कुमार, डॉ. मनोज कुमार, डॉ. एकता नरवाल, डॉ. सौरभ त्यागी, डॉ. मंजू रानी, स्वीटी पाल, आयुश मादान, डॉ. गणेश भारद्वाज, डॉ. अभिषेक डबास तथा अविनव पाठक का महत्वपूर्ण योगदान रहा है।

Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद

शादी में दिखावे की हदे पार, लड़की पक्ष ने विवाह स्थल पर लगवाया फ्लैस्क, लिखा :- गाडी के साढे 7 लाख नकद दिए दूल्हे को