दो लड़कों का गठबंधन है, जनता का नही: योगी आदित्यनाथ





मुजफ्फरनगर में सीएम बोले-आपको कर्फ्यू वाली



सरकार चाहिए या कावड़ वाली
मुजफ्फरनगर। सीएम योगी आदित्यनाथ ने बुढाना के डीएवी इंटर कालेज में जनसभा की। कहा, पांच साल में यूपी में कोई दंगा नहीं हुआ। आप लोगों को मुजफ्फरनगर का दंगा याद है न। ये सत्ता के संरक्षण में हुआ था। पहले कोई व्यक्ति यहां खुद को सुरक्षित नहीं समझता था। आपको दंगा रोकने वाली सरकार चाहिए या दंगा करवाने वाली। कुछ लोग पहली बार बिल से बाहर निकले हैं, इसलिए गर्मी ज्यादा लग रही है। वो भी जल्दी शांत हो जाएगी। जब किसानों पर गोली बारी हो ही थी, तब इन लोगों की गर्मी कहां चली गई थी। भाजपा की डबल इंजन की सरकार है। जो विकास और सुरक्षा देने का वादा करती है। उन्होंने जनता से पूछा कि यहां पर मौजूद कितने लोगों ने वैक्सीन लगवाई। कुछ लोग कहते थे कि ये भाजपा की वैक्सीन है हम तो नहीं लगवाएंगे। अब उन्होंने छुपकर लगवाई। कहा कि सपा के समय जब बिजली नहीं देते तो अब फ्री कहां से देंगे। सपा में बिजली देने में भी भेदभाव किया जाता था। उन्होंने कहा कि 10 मार्च को शिमला मैं यही बनाने वाला हूं। सपा का विकास कब्रिस्तान की बाउंड्री में दिखाई देखा है। पता है क्यों? जिसको जो पसंद होता है। उसको वही दिखाई देता है। उनके समय दंगे होते थे, बेटिया असुरक्षित थी। पांच साल पहले यहां के हालात आप सब जानते थे। दंगा का दौर था। कई लोग तो डर कर भाग गए थे। हर तरफ दंगा-दंगा सुनाई दे रहा था। मैं अकेला सांसद था जिसने ये बात को संसद में उठाया था। उधर सोमवार को खतौली विधानसभा में सभा करने पहुचें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि पूर्व की सपा व बसपा की सरकारों में विकास कार्य कागजों पर होते थे। भ्रष्टाचार के चलते सरकारी योजनाए लोगों तक नही पहुचती थी। मगर 2017 में भाजपा की बनी सरकार ने यूपी से क्रप्शन को खत्म किया और जनता तक सरकारी योजनाओं का सीधे लाभ पहुंचाया। योगी ने कहा कि सपा की सरकार में विकास कार्य कब्रिस्तान की चार दिवारी पर होते थे। प्रदेश के अंदर माफियाओं और गुंडों का राज चलता था। बहन बेटियों की इज्जत से खिलवाड़ किया जाता था। मगर भाजपा सरकार ने माफियाओं को सबक सिखाया उन पर बुलडोजर चलवाये, अब आलम यह है या तो माफिया यूपी से पलायन कर गये है या फिर भूमिगत हो गये है। योगी ने मुजफ्फरनगर के 2013 के दंगे की याद दिलाते हुए जयंत चैधरी पर तंज कसे। उन्होंने कहा कि जब अखिलेश सरकार में दंगो में जाट समाज को टारगेट किया जा रहा था। उन पर फर्जी मुकदमे दर्ज करवा कर जेल भेजा जा रहा था। तब जयंत चैधरी दिल्ली में बैठकर तमाशा देख रहे थे। ऐसे समय में भाजपा कार्यकर्ताओं ने दंगो के पीड़ितों के साथ खड़े होकर उनके साथ ना इंसाफी नही होने दी और खुद जेल चले गये। योगी ने सभा मे कहा कि ऐसे नेताओं के बहकावे नही आना है, उनसे कहना कि वो सौहार्द अपने पास रखे, हमें खुद अपनी सुरक्षा करनी आती है। योगी ने कहा कि भाजपा सरकार ने उत्तर प्रदेश में बिना भेदभाव के सर्वसमाज का विकास किया है, गरीब लोगों को फ्री राशन दिया जा रहा है, सरकारी योजनाओं का लोगों को सीधे लाभ पहुचाया सपा सरकार में तमंचे बनाने वालों का विकास होता था। तमंचा फेक्ट्री चलती थी। योगी ने अंत मे जनता से आह्वान किया कि वो भाजपा को वोट देकर विकास कार्यो में भागीदार बने, 10 मार्च के बाद प्रदेश में फिर से भाजपा की सरकार बनने जा रही है। योगी ने कहा कि यह गठबंधन दो लड़कों का गठबंधन है, जनता का नही जनता का विश्वाश भाजपा के साथ जुड़ा है। अंत में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वंदे मातरम और जय श्री राम के जयघोष के साथ अपने भाषण को समाप्त किया और हेलीकाप्टर से मेरठ के लिये रवाना हो गये। 

Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

शादी में दिखावे की हदे पार, लड़की पक्ष ने विवाह स्थल पर लगवाया फ्लैस्क, लिखा :- गाडी के साढे 7 लाख नकद दिए दूल्हे को

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद