मनचले अफसर पर गिरी शासन की गाज,हटाकर किया गया सहारनपुर अटैच

 


-एक माह पूर्व महिला कर्मचारी के साथ की थी अश्लीलता व मारपीट


मुजफ्फरनगर के मनचले अफसर पर आखिरकार गाज गिर ही गई। राजनीतिक तौर पर संरक्षण पाकर जिले में तैनाती पाए DHO सतेंद्र पाल मान को DM चंद्रभूषण सिंह की गोपनीय जांच रिपोर्ट के आधर पर शासन ने दोषी मानते हुए उन्हें जिले से हटाते हुए तत्काल प्रभाव से सहारनपुर मुख्यालय में अटैच कर दिया है। यहां का कार्यभार सहारनपुर के DHO को सौंपा गया है।

बता दें कि कुछ दिन पहले विभाग की महिला कर्मचारी के साथ DHO द्वारा अश्लीलता की गई थी, जिसके बाद यहां आरोपी अफसर द्वारा महिला की पिटाई भी कर दी गई। इसको लेकर मामला तूल पकड़ गया था। DM चंद्रभूषण सिंह ने इस पूरे प्रकरण की जांच सीडीओ आलोक यादव से कराई। जांच रिपोर्ट शासन को भेजी गई, जिसमें माना गया कि DHO का रवैया कर्मचारियों के प्रति ठीक नहीं थी। ऐसी स्थिति में कर्मचारियों व अध्किरी के बीच तनातनी हुई। जांच रिपोर्ट के आधार पर उत्तर प्रदेश शासन के उद्यान अनुभाग के विशेष सचिव संदीप कौर ने इस सम्बंध् में शासनादेश जारी करते हुए शासन द्वारा लिए गए निर्णय की जानकारी दी, जिसमें स्पष्ट किया गया कि जिला उद्यान अधिकारी सतेंद्र पाल मान कर्मचारियों को प्रताडित करते थे। यहां तक कि अभद्र व्यवहार के साथ उनका वेतन भी रोक देते थे। पूर्व में भी पांच से अध्कि जांच हो चुकी थी, लेकिन राजनीतिक दबाव में यह सभी जांच फाइलों में दबी पड़ी थी, लेकिन अब शासन स्तर से कार्यवाही होने के साथ ही आरोपी अपफसर को यहां से जाना पड़ा।


आरोपी के खिलाफ दर्ज नहीं हो पाई रिपोर्ट

भले ही शासन स्तर से आरोपी अफसर के खिलाफ कार्यवाही हो गई हो, लेकिन महिला कर्मचारी सनव्वर जहां के साथ अश्लीलता व मारपीट के मामले में सिविल लाइन पुलिस ने अभी तक भी कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं की। इस मामले में सिविल लाइन थाना प्रभारी का कहना था कि प्रशासन स्तर पर जांच चल रही थी, जिसकी वजह से मुकदमा दर्ज नहीं किया गया था।

Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद

चाऊमीन खिलाने के बहाने घर से बुलाकर ले गए युवक की दोस्तों ने ही सिर में गोली मारकर हत्या