हिंदू समाज की पहचान महर्षि भगवान वाल्मीकि से हुई: गुर्जर

 

-एसजीएम गार्डन में मनाया गया भगवान वाल्मीकि पावन प्रकट दिवस 



मेरठ। एसजीएम गार्डन में भगवान वाल्मीकि पावन प्रकट दिवस के अवसर पर एक कार्यक्रम निर्धन कन्या सेवा ट्रस्ट की स्थापना की गई। महर्षि वाल्मीकि प्रकट दिवस के कार्यक्रम की अध्यक्षता विपेंद्र सुधा वाल्मीकी जिला अध्यक्ष अनुसूचित मोर्चा भाजपा ने की। 


कार्यक्रम का संचालन मनमोहन भल्ला ने किया। कार्यक्रम में समाज के गणमान्य व्यक्ति भगवान वाल्मीकि की तस्वीर भेंट कर सम्मानित किया। सभी के गले में भगवान वाल्मीकि का पटका पहनाकर सम्मानित किया गया। वक्ताओं में मुखिया गुर्जर ने कहा हिंदू समाज की पहचान रामायण के रचयिता महर्षि भगवान वाल्मीकि से हुई है। राम की नगरी अयोध्या मे जो मंदिर बन रहा है, वह मंदिर रामायण के रचयिता भगवान वाल्मीकि की देन हैं। मातादीन वाल्मीकि जैसे इस समाज में पैदा हुए अगर देश भक्ति सीखे तो वाल्मीकि समाज से सीखें। मंच पर कार्यक्रम में अतिथि के रूप में संजीव सिक्का राज्यमंत्री, अमित अग्रवाल पूर्व विधायक, मुकेश सिंघल महानगर अध्यक्ष, प्रमोद ऊंटवाल विधायक, करणु नंदन गर्ग शर्मा, राज कुमार सोनकर, कुल्लन देवी मुजफ्फरनगर, कार्यक्रम में सम्मानित करने वाले लोगों में मुखिया गुर्जर ने कैलाश चंदोला सफाई मजदूर नेता को पटका पहनाकर व वाल्मीकि तस्वीर देकर सम्मानित किया। कुल्लन देवी को भी सम्मानित किया। नरेश वेद, सुंदर लाल भुरंडा, विनोद चंदोला भाजपा नेता, राजकुमार सिद्धार्थ, अनिल जैनवाल, राघव प्रसाद, नरेंद्र सागर, मनोज जाटव , नंदू जैनवाल ,रमेश चंद्र गहरा, राजेश कुमार बोहोत, राजेश भगत इन सभी लोगों को कार्यक्रम के आयोजक वीके चिंडालिय द्वारा अखबल सेठ सभी लोगों को कार्यक्रम में सभी लोगों को सम्मानित किया गया।

Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद

चाऊमीन खिलाने के बहाने घर से बुलाकर ले गए युवक की दोस्तों ने ही सिर में गोली मारकर हत्या