ग्रामीणों को नहीं मिल रहा आयुष्मान योजना का लाभ

 


-समाजसेवी दुष्यंत रोहटा ने की स्वास्थ्य प्रभारी रोहटा अमर सिंह से शिकायत

मेरठ। केंद्र और राज्य सरकारों ने देश में सभी परिवारों को स्वास्थ्य लाभ देने के लिए आयुष्मान योजना का शुभारंभ किया था, इस योजना में परिवार के प्रति व्यक्ति को प्रति वर्ष 5 लाख रुपये तक का फ्री इलाज सरकार की तरफ से दिया जाता है, जिसको लेकर केंद्र सरकार आयुष्मान योजना का लाभ देने के लिए बार-बार विभिन्न आयोजनों के माध्यम से लोगों को जागरूक करने एवं गोल्डन कार्ड लाभार्थी परिवारों तक पहुंचाने का काम कर रही हैं। 

वही स्वास्थ्य विभाग के कुछ आला अधिकारी इस और बिल्कुल ध्यान नहीं दे रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में जो आयुष्मान कार्ड बने हुए हैं, स्वास्थ्य विभाग लाभार्थी परिवारों तक गोल्डन कार्ड बनाकर नहीं पहुंचा सके है, जिस कारण लाभार्थी परिवार स्वास्थ्य लाभ से वंचित है। ऐसा ही एक मामला ग्राम रोहटा का सामने आया है। ग्राम रोहटा में लगभग 3000 आयुष्मान कार्ड जारी किए गए थे, जिसमें अब तक स्वास्थ्य केंद्र रोहटा के स्वास्थ्य अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा मात्र 117 गोल्डन कार्ड ही गांव में वितरित किए गए, यह स्वास्थ्य विभाग रोहटा की एक बहुत बड़ी लापरवाही सामने आई है, जबकि केंद्र और राज्य सरकार दोनों इस बात का दावा कर रही हैं कि आयुष्मान कार्ड का लाभ सभी लाभार्थी परिवारों तक पहुंचा दिया गया है, कैम्प लगाकर सभी गोल्डन कार्ड परिवारों में वितरित कर दिये गए हैं लेकिन, गांव रोहटा के इस प्रकरण ने इस बात की कलई खोल दी है कि स्वास्थ्य विभाग आम जनता के साथ किस तरह का खिलवाड़ कर रहा हैं। इस मामले को लेकर ग्रामीणों ने समाजसेवी दुष्यंत रोहटा से शिकायत की तो दुष्यंत रोहटा दिन सोमवार को रोहटा स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी अमर सिंह से मिले और इस मामले पर नाराजगी जाहिर की। दुष्यंत रोहटा ने स्वास्थ्य प्रभारी रोहटा अमर सिंह से कहा यह स्वास्थ्य विभाग की ग्रामीणों के साथ बहुत बड़ी लापरवाही है, जिसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया  जाएगा, उन्होंने मांग की बहुत जल्द सभी लाभार्थी परिवारों के प्रत्येक व्यक्ति की वाई सी कराकर कैंप के माध्यम से लगभग 3000 गोल्डन कार्ड परिवारों तक पहुचाये जाए, जिससे ग्रामीण आयुष्मान योजना का लाभ ले सके।  इस पूरे प्रकरण की शिकायत दुष्यंत रोहटा ने जिलाधिकारी मेरठ और मुख्य चिकित्सा अधिकारी मेरठ से भी की है।


Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद

चाऊमीन खिलाने के बहाने घर से बुलाकर ले गए युवक की दोस्तों ने ही सिर में गोली मारकर हत्या