मुजफ्फरनगर के युवा अरीब अहमद का इसरो में चयन

 



मुजफ्फरनगर के खतौली निवासी अरीब अहमद का इसरो में वैज्ञानिक के पद पर चयन हुआ हैं। उनके चयन की सूचना मिलते ही खतौली में खुशी की लहर दौड गई। अरीब अहमद खतौली के मौहल्ला मिट्ठू लाल में रहते हैं। काजी महताब जिया व श्रीमति नाजरीन के बेटे अरीब अहमद ने इण्टरमीडिएट तक की शिक्षा गोल्डन हार्ट एकेडमी से प्राप्त की थी। इसके बाद जामिया दिल्ली से बीटैक किया। जामिया मिल्लिया इस्लामियां के छात्र अरीब अहमद ने भारतीय अनुसंधान संगठन की केन्द्रीय कृत भर्ती बोर्ड परीक्षा दी थी। जिसके बाद उनका वैज्ञानिक एवं इंजीनियर पद पर चयन हुआ हैं। बता दे कि अरीब अहमद वरिष्ठ समाजसेवी एंव प्रयत्न के महासचिव असद फारूकी के भांजे हैं। असद फारूकी ने बताया कि उनका भांजा बहुत ही मेधावी हैं। फिलहाल एफ़सीआई में उनका चयन हुआ था। छह माह की ट्रेनिंग पूरी हो चुकी है। इस बीच इसरो की परीक्षा का परिणाम घोषित हुआ और अरीब अहमद को वैज्ञानिक एवं इंजीनियर के पद पर चयनित किया गया हैं। बेटे की सफलता से उत्साहित उनके पिता काजी मेहताब जिया का कहना है कि इण्टरमीडिएट परीक्षा के बाद उनके बेटे की इच्छा वैज्ञानिक बनने की थी। इसी जद्दो जहद के बीच दिल्ली के जामिया मिल्लिया इस्लामियां में उसने प्रवेश लिया था।

Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद

चाऊमीन खिलाने के बहाने घर से बुलाकर ले गए युवक की दोस्तों ने ही सिर में गोली मारकर हत्या