चाऊमीन खिलाने के बहाने घर से बुलाकर ले गए युवक की दोस्तों ने ही सिर में गोली मारकर हत्या

 


मुजफ्फरनगर में चाऊमीन खिलाने के बहाने घर से बुलाकर ले गए युवक की दोस्तों ने ही सिर में गोली मारकर हत्या कर दी। शहर कोतवाली क्षेत्र के शाहबुद्दीन पुर रोड पर देर रात हुए इस हत्याकांड से शहर में सनसनी फैल गई। पुलिस ने अज्ञात हत्यारों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

थाना सिविल लाइन क्षेत्र के मोहल्ला जनकपुरी निवासी पंडित देवेंद्र प्रसाद मिश्र स्थानीय गौरी शंकर शिव मंदिर में पुजारी हैं। मूल रूप से जनपद सुल्तानपुर निवासी देवेंद्र मिश्र 12 वर्ष पहले मुजफ्फरनगर में आकर बस गए थे। बताया कि मंगलवार देर रात उनके घर पर तीन युवक आए और 16 वर्षीय बेटे राज मिश्रा को चाऊमीन खिलाने की बात कहते हुए साथ ले गए। एक घंटे बाद ही उन्हें सूचना मिली कि राज मिश्रा का सिर में गोली लगा शव शहर कोतवाली क्षेत्र के शाहबुद्दीन पुर रोड पर एक खाली प्लाट में पड़ा है। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

पुलिस ने तीन संदिग्ध युवकों को लिया हिरासत में

पंडित देवेंद्र मिश्र की तहरीर पर शहर कोतवाली पुलिस ने अज्ञात हत्यारों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। सूत्रों की माने तो पुलिस ने राज मिश्रा को घर से बुलाकर ले जाने वाले तीनों संदिग्ध सनी उर्फ तोता पुत्र मांगेराम निवासी रामपुरी, लविश उर्फ लवी पुत्र प्रदीप निवासी फ्रेंड्स कॉलोनी तथा रवि कुमार पुत्र वीरेंद्र निवासी जनकपुरी को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की है।

28 हजार का खरीदा था पिस्टल

सूत्रों की माने तो जिस पिस्टल से गोली मारकर राज मिश्रा की हत्या की गई है वह एक व्यक्ति से 28 हजार रुपये का खरीदा गया था। जिसकी बरामदगी कर पुलिस ने युवकों को पिस्टल बेचने वाले को भी हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।

पुजारी के बेटे की हत्या पर मोहल्ले में शोक

थाना सिविल लाइन क्षेत्र के मोहल्ला जनकपुरी के गौरी शंकर शिव मंदिर के पुजारी देवेंद्र मिश्रा के बेटे की हत्या को लेकर मोहल्ले में शोक का माहौल है। स्थानीय निवासी डॉ वीरेंद्र कुमार वर्मा ने बताया कि पुलिस ने आश्वस्त किया है कि शीघ्र ही हत्यारों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

इनका कहना है...

शहर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक आनंद देव मिश्रा का कहना है कि हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। शीघ्र ही हत्यारोपियों की गिरफ्तारी कर घटना का खुलासा कर दिया जाएगा।

Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद