पत्रकार जिया चौधरी पर हुए जानलेवा हमले के आरोपियों की नहीं हुई गिरफ्तारी

 पुलिस आरोपियो से सांठगांठ कर मामले में कर रही लीपापोती

अखिल भारतीय पत्रकार सुरक्षा समिति के जिला अध्यक्ष अजय चौधरी के नेतृत्व में एसएसपी से मिले समिति के पदाधिकारी



मेरठ  में सोमवार को अखिल भारतीय पत्रकार सुरक्षा समिति के पदाधिकारी जिला अध्यक्ष अजय चौधरी के नेतृत्व में एसएसपी ऑफिस पहुंचे। जिला अध्यक्ष अजय चौधरी ने बताया कि एक समाचार पत्र के ब्यूरो चीफ जियाउर रहमान पुत्र मौहम्मद अनवार निवासी श्याम नगर थाना लिसाड़ी गेट पर 4 अक्टूबर की रात्रि घर में घुसते हुए पड़ोस के रहने वाले मुनव्वर पुत्र हाजी चांद, जहांगीर पुत्र अमीर अहमद व दो अज्ञात व्यक्तियों द्वारा जानलेवा हमला किया गया था। घटना के संबंध में लिसाड़ी गेट थाने पर शिकायत की गई थी। लिसाड़ी गेट पुलिस ने मेडिकल कराकर मुकदमा दर्ज कर लिया था। पीड़ित जियाउर रहमान को गंभीर चोटे होने के बावजूद पीड़ित की तहरीर के आधार पर धाराएं नहीं लगाई गई जबकि पीड़ित पत्रकार पांच दिन तक हॉस्पिटल में भर्ती रहा। थाना लिसाड़ी गेट पुलिस द्वारा आरोपियो से सांठगांठ कर धाराओं में हेरफेर करके आरोपियों को लाभ पहुंचाने की कोशिश की गई। आरोपी खुलेआम घूम रहे है। आरोपियों द्वारा पत्रकार को धमकी मिल रही है कि अबकी बार तो बच गया अगली बार मौका मिलते ही जान से मार देंगे। 


बाइक चोरी के होने के बाद पीड़ित ने घर के बाहर लगाया था कैमरा


पीड़ित पत्रकार की 24 अप्रैल 2019 को घर के बाहर से बाइक चोरी हुई थी। बाइक चोरी के बाद गेट पर कैमरा लगवा दिया गया था। कैमरा लगने के बाद मुनव्वर ने विरोध किया था लेकिन पीड़ित पत्रकार ने गेट के बाहर से कैमरा नहीं हटाया। मुनव्वर का दोस्त इमरान पुत्र यूनुस रात को घर में ही गोकशी करता था। कैमरा लगने के बाद से इमरान ने गोकशी करना बंद कर दिया था। कैमरा नहीं हटाने पर मुनव्वर ने देख लेने की धमकी दी थी। 


बिजली चोरी की शिकायत करने से भी रंजिश रखते है आरोपी

वही दूसरे आरोपी जहांगीर बिजली चोरी करता है बिजली चोरी की शिकायत करने पर जागीर रंजिश रखता है। जिला अध्यक्ष अजय चौधरी द्वारा बताया गया कि उसने फूलों की बेल को तारों के जरिए बिजली के खंभे पर लपेट रखा था। जिसकी आड़ में बिजली चोरी की जा रही थी। 13 सितंबर को पीड़ित के भांजे ने पीवीवीएनएल के एमडी व अधिशासी अभियंता के फूलों की बेल की आड़ में बिजली चोरी की शिकायत की थी। चार अक्टूबर की दोपहर बिजली विभाग द्वारा बेल को कटवा दिया गया। तब से ही उक्त लोग पीड़ित पत्रकार से रंजिश रखते है। पत्रकार को पहले भी कई बार यह लोग धमकी दे चुके है। यह लोग बहुत ही शातिर किस्म के बाहुबली लोग है। मौहल्ले में आस पड़ोस के सभी लोग इनसे भय खाते है। पीड़ित पत्रकार को इन लोगों से अपने व अपने परिवार की जान व माल का खतरा बना हुआ है। जिला अध्यक्ष अजय चौधरी ने पीड़ित पत्रकार व परिवार की जान माल की सुरक्षा करते हुए दोषियों के खिलाफ दर्ज मुकदमे में विवेचना कर रहे एसआई अमित कुमार को तहरीर व मेडिकल के आधार पर धाराएं बढ़ाने व् आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने के आदेश पारित करने की मांग की। दूसरी ओर जिला अधिकारी को भी घटना के संबंध में ज्ञापन देते हुए आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की गई है।

Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद

सिटी सेंटर में 5 दुकानों के शटर फाड़कर लाखो की चोरी, CC कैमरे में कैद हुए बदमाश