भाजपा के क्षेत्रीय मंत्री अंकुर राणा पर लगे आरोप निकले निराधार




मेरठ में आकाश शर्मा, अंकुर राणा, सविता के साथ कॉलेज ट्रस्ट में प्रबंधकीय मामलों को लेकर जो विवाद था वह 22 सितंबर 2021 को समाप्त हो गया। 


पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर ऑडियो चैट वायरल हो रही थी जिसमें पूर्व की ऑडियो  बातचीत को फर्जी चैटिंग से जोड़कर राजनैतिक षडयंत्र रचा गया जांच करने पर कॉलेज पार्टनरशिप से जुड़ा मामला पाया गया। गहनता से जांच के बाद यह बात सामने आयी। कि श्री वैष्णो देवी कॉलेज ट्रस्ट मैं अंकुर राणा का कार्यकाल 6 वर्ष रहा जिसमें अपने पार्टनरो से आपसी विवाद हो गया था 16 जनवरी 2021 को समझौते के बाद अंकुर राणा ने स्वेच्छा से कॉलेज ट्रस्ट से इस्तीफा दे दिया था। परंतु कुछ प्रबंधकीय विवाद आपस में चलते रहे जिससे अब कुछ विरोधी लोग अपने व्यक्तिगत फायदे के लिए अंकुर राणा की राजनैतिक छवि को नुकसान पहुंचाने व अपनी राजनैतिक दुश्मनी निकालने के लिए फर्जी चैट बनाकर इस्तेमाल किया गया जबकि यह कॉलेज ट्रस्ट से जुड़ा मामला था।

Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद

चाऊमीन खिलाने के बहाने घर से बुलाकर ले गए युवक की दोस्तों ने ही सिर में गोली मारकर हत्या