सोशल मीडिया पर धार्मिक भावनाएं भड़काना पड़ेगा महंगा : इंस्पेक्टर ध्रुवभूषण



बुलन्दशहर/औरंगाबाद (शब्बीर अहमद सैफी/अधिवक्ता इमरान खान): जहाँ पूरे देश में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से लोग परेशानहाल हैं वही दूसरी ओर कुछ लोग धार्मिक उन्माद फैला कर समाज में जहर घोलने का काम कर रहे है। औरंगाबाद पुलिस ने सोशल मीडिया पर धार्मिक भावनाओं को आहत करने के उद्देश्य से विवादित पोस्ट करने के आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। 
      प्रभारी निरीक्षक ध्रुवभूषण दूबे ने बताया कि केशव सैनी पुत्र सुरेश सैनी निवासी मोहल्ला मेन मार्किट क़स्बा व थाना औरंगाबाद जनपद बुलन्दशहर  सोशल मीडिया पर भ्रामक व धार्मिक भावनाओं को आहत करने के मकसद से आपत्तिजनक पोस्ट कर रहा था। केशव सैनी द्वारा अपने ट्विटर अकाउंट से ही धार्मिक उन्माद फ़ैलाने के उद्देश्य से विवादित पोस्ट दाल रहा था। केशव सैनी पुत्र सुरेश सैनी पर मुकदमा अपराध संख्या 216/20 धारा 295A/505 भा०द०वि० व 67 आईटी एक्ट पंजीकृत करते हुए अभियुक्त को न्यायालय में प्रस्तुत किया गया। जहाँ से उसे जेल भेज दिया गया। 
     इंस्पेक्टर ध्रुवभूषण दूबे ने लोगों से अपील की है कि कोई भी व्यक्ति सोशल मीडिया पर भ्रामक व धार्मिक भावनाओं को आहत करने के उद्देश्य से आपत्तिजनक पोस्ट न करे, यदि कोई व्यक्ति/युवक द्वारा डिजिटल वालंटियर ग्रुप अथवा सोशल मीडिया पर भ्रामक व धार्मिक भावनाओं को आहत करने के उद्देश्य से कोई आपत्तिजनक पोस्ट की जाती है अथवा शेयर की जाती। है तो उसके विरुध्द कठोर कानूनी कार्यवाही की जायेगी।