साजिद हत्याकांड में वांछित आरोपी गिरफ्तार


बुलन्दशहर (शब्बीर अहमद सैफी): कोतवाली देहात पुलिस व स्वाट टीम के संयुक्त ऑपरेशन में 20 हजार के वांछित अपराधी को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने उसके पास से एक अवैध तमंचा बरामद किया है। 
      क्षेत्राधिकारी नगर राघवेन्द्र कुमार मिश्र के निर्देशन में स्वाट टीम व कोतवाली देहात पुलिस संयुक्त रूप से विगत रात्रि में अपराधियों की धरपकड़ के लिए गश्त पर थे। पुलिस को मुखबिर के द्वारा सूचना मिली कि थाना सिकन्द्राबाद में 2019 में हुए साजिद हत्याकांड का वांछित ईनामी आरोपी महराज उर्फ़ काले सिकन्द्राबाद की तरफ से अल्लीपुर गिझोरी रोड होते हुए ग्राम अकबरपुर की ओर जाने वाला है। दोनों पुलिस टीम संयुक्त रूप से कार्यवाही करते हुए अल्लीपुर गिझोरी बम्बे की पुलिया पर छिपकर अभियुक्त के आने का इंतजार करने लगे। सामने से आता हुआ एक युवक दिखाई दिया पुलिस ने रुकने के लिए कहा परंतु वह नही रुका और उसने पुलिस टीम पर फायर कर दिया। पुलिस ने घेराबंदी कर उस युवक को पकड़ लिया। तलाशी लेने पर उसके पास अवैध असलाह मय कारतूस सहित गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की। 
      स्मरण रहे कि महराज उर्फ़ काले पुत्र रहीस निवासी मोहल्ला गद्दीवाड़ा क़स्बा व थाना सिकन्द्राबाद ने 2019 में साजिद पुत्र खिजर मोहम्मद निवासी मोहल्ला रमपुरा शेखवाड़ा सिकन्द्राबाद मोहल्ला रिसलदार स्थित मस्जिद से जुमे की नमाज पढ़कर निकलते हुए गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। साजिद हत्याकांड में संलिप्त आठ अभियुक्तों को पूर्व में ही गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चूका है। अभियुक्त महराज उर्फ़ काले नवम्बर 2019 से लगातार फरार चल रहा था।
      गिरफ्तार करने वाली टीम में दीक्षित कुमार त्यागी प्रभारी स्वाट टीम क्राइम ब्रांच, उ०नि० अजय दीप, हेड कांस्टेबल असलम, जितेंद्र यादव, कांस्टेबल वसीम, कपिल कुमार, मणिराम त्यागी, कोतवाली देहात प्रभारी सुधीर कुमार त्यागी, उ०नि० श्योपाल, धीरज राठी, कांस्टेबल हरेन्द्र सिंह, नीरज त्यागी रहे। महराज उर्फ़ काले पर पहले से ही कई मुक़दमे दर्ज है।


Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद

चाऊमीन खिलाने के बहाने घर से बुलाकर ले गए युवक की दोस्तों ने ही सिर में गोली मारकर हत्या