रात के स्याह अंधेरे मे धरती का सीना चीर रहा खनन माफिया


अहमद हुसैन


लोग डाउन के बावजूद धड़ल्ले से चल रहा खनन का काम


मेरठ।सरूरपुर  कोरोना महामारी के चलते जहां शासन-प्रशासन लॉक डाउन का कड़ाई से पालन करने के लिए दिन-रात जुटा हुआ है। वहीं सरूरपुर थाने की हर्रा पुलिस चौकी शासन-प्रशासन के आदेशों को ठेंगा दिखाकर रात के सिया अंधेरे में लॉक डाउन के बावजूद  जमकरअवैध खनन करा रही है। पुलिस की मिलीभगत के चलते माफिया के लोग पीले पंजे से धरती का सीना चीर कर मोटी रकम कमा रहे हैं। यही नहीं खनन माफिया के वाहन रात में पुलिस चौकी के सामने से खुलेआम गुजर रहे हैं,लेकिन पुलिस इस से और आंखें मूंदे बैठी हुई है।
कोरोना महामारी के चलते जहां पूरे देश में लॉक डाउन चल रहा है और शासन-प्रशासन लॉक डाउन का कड़ाई से पालन कराने के लिए लोगों को कानून का पाठ पढ़ा रहा है।यही नही पुलिस भी रात दिन कड़ाई से लोग डॉन का पालन कराने के लिए दिन-रात एक किए हुए हैं।वहीं सरूरपुर थाने की हर्रा पुलिस चौकी इसके एकदम उलट काम कर रही है। हर्रा पुलिस चौकी लोक डाउन के पालन के बजाय शासन-प्रशासन के आदेशों को ठेंगा दिखा रही है। यहां तैनात पुलिसकर्मी शासन -प्रशासन के आदेशों को ठेंगा दिखाकर रात के अंधेरे में लॉक डाउन के बावजूद जमकर अवैध खनन कराने में जुटे हुए हैं। रात के स्याह अंधेरे में जमकर धरती का सीना चीर रहे खनन माफिया  के लोग जेसीबी के पीले पंजे से धरती को छलनी करने में लगे हुए हैं। यहां आधा दर्जन से अधिक ट्रैक्टर ट्रॉली और डंपर खनन करने में लगे हुए हैं जो हर्रा के जंगल से खनन करके दूसरी जगहों पर मिट्टी पहुंचा कर मोटी रकम कमा रहे हैं। लोगों का आरोप है कि इस पूरे खेल में स्थानीय पुलिस चौकी का अहम रोल है और उसकी मिलीभगत से ही सेटिंग-गेटिंग के बीच अवैध खनन का यह काला कारोबार रात के अंधेरे में जमकर चल रहा है। खनन माफिया के लोग बिना किसी रोक-टोक के रात के स्याह अंधेरे में पुलिस चौकी के सामने से मिट्टी के वाहन लेकर धड़ल्ले से गुजर रहे हैं। लेकिन इसे लेकर पुलिस आंखें मूंदे बैठी हुई है। जबकि माफिया के लोगों ने किसानों के खेतों में कई कई फीट गहरी खाई बनाकर धरती का सीना चीर कर के रख दिया है ।इसे लेकर स्थानीय लोगों ने बताया कि रात के अंधेरे में खनन माफिया के धड़ल्ले से दौड़ रहे वाहनों ने लोगों का नींद हराम कर रखी है। हालांकि संबंध में क्षेत्र के गणमान्य व्यक्ति ने मामले की शिकायत शासन से की है। वहीं दूसरी ओर इस मामले में स्थानीय लेखपाल उदित कुमार से बात की गई तो उन्होंने बताया कि मामला उनके संज्ञान में नहीं है। जबकि थानाध्यक्ष सतीश कुमार ने बताया कि खनन की शिकायत मिली है तो जांच कर कार्रवाई कराई जाएगी। वही इस संबंध में एसडीएम अमित भारतीय से बात करने का प्रयास किया गया लेकिन उन्होंने कॉल रिसीव नहीं की।
------
अहमद हुसैन
True story


Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद

चाऊमीन खिलाने के बहाने घर से बुलाकर ले गए युवक की दोस्तों ने ही सिर में गोली मारकर हत्या