आवारा कुत्तों के हमले से घायल हुआ हिरन


बुलन्दशहर/स्याना (शब्बीर अहमद सैफी/एड्वोकेट इमरान खान): जंगली कुत्तो के हमले से घायल हुए हिरन ने रिहायशी इलाके में घुसकर अपनी जान बचायी। पुलिस ने मौके पर पहुँचकर उसका उपचार करने के बाद हिरन के बच्चे को वन विभाग के अधिकारियों को सौंप दिया। 
     हुआ यूँ कि चांदपुर गांव की तरफ से एक हिरन का बच्चा घायल अवस्था में चांदपुर चुंगी के निकट आवासीय कॉलोनी में आ पहुंचा । बच्चे की हालत देखकर लग रहा था कि उसे आवारा कुत्तों ने घायल किया है। जंगल में इस समय ईंख की फसल और गेहूँ की फसल कट चुकी है। जंगल पूरी तरह खाली हो चुके हैं । ऐसे में जानवरों को छिपने के लिए कोई जगह नही मिली। इसलिए जानवर रिहायशी इलाकों  की तरफ रुख कर रहे है। घायल अवस्था में चांदपुर चुंगी पर आवासीय कॉलोनी में पहुचे हिरन के बच्चे को लोगों ने पकड़ लिया और पुलिस को सूचना दी। 
      मौके पर एसएसआई राजबहादुर राठी ने पहुँचकर उसका इलाज कराया और वन विभाग के अजीत प्रधान (वन दारोगा) व प्रेमचंद (वन रक्षक) को मौके पर बुलाकर हिरन के बच्चे को उनके सुपुर्द कर दिया। वन अधिकारियों ने बच्चे को ले जाकर सुरक्षित स्थान पर छोड़ दिया।