कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए नोडल अधिकारियों द्वारा जनपद बुलन्दशहर में जिलाधिकारी, एसएसपी, सीएमओ, चिकित्सकों व अन्य अधिकारियो के साथ बैठक की

बुलन्दशहर (शब्बीर अहमद सैफी/एड्वोकेट इमरान खान): कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए नोडल अधिकारियों द्वारा जनपद बुलन्दशहर में जिलाधिकारी, एसएसपी, सीएमओ, चिकित्सकों व अन्य अधिकारियो के साथ बैठक की।
       वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए शासन द्वारा बनाये गए नोडल अधिकारियों ने कल जनपद के हॉटस्पॉट क्षेत्रो का निरीक्षण किया था। नोडल अधिकारियों ने जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह के साथ हॉटस्पॉट कस्बा शिकारपुर के सील होने की स्थिति का निरीक्षण किया। उन्होंने चिरचिटा स्थित L1 कोविड 19 हॉस्पिटल की व्यवस्थाओं का तथा कस्बे में आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता, स्वास्थ्य सम्बन्धी अन्य आवश्यकताओं की जानकारी ली थी। 
       शासन द्वारा कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए पुलिस एवं प्रशासन द्वारा प्रयासों को प्रभावी मार्गदर्शन देने के आशय से जनपद बुलन्दशहर के लिए आयुक्त मेरठ मण्डल अनीता मेश्राम एवं पुलिस महानिरीक्षक दीपक रत्न को नोडल अधिकारी नामित किया गया है। नोडल अधिकारियों ने इस संबंध में जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, सीएमओ, चिकित्सकों व अन्य अधिकारियों के साथ जिला पंचायत सभागार में बैठक की। बैठक में उपस्थित सभी अधिकारीगण को कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने शासन द्वारा कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए दिए गए आवश्यक निर्देशों का अक्षरशः पालन सुनिश्चित कराये जाने के निर्देश भी दिए। 
       बैठक में यह भी निर्देश दिए गए कि हॉटस्पॉट क्षेत्रों में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति में कमी नही आनी चाहिए और लॉक डाउन का पालन शत प्रतिशत कराया जाना सुनिश्चित किया जाना चाहिए । किसी भी कोरोना संक्रमित व्यक्ति की सूचना किसी भी स्तर से मिलने पर स्वयं को सुरक्षित रखते हुए उस व्यक्ति को तत्काल आइसोलेशन/क़्वारंटाइन सेन्टर भेजा जाना सुनिश्चित करें। 
        बैठक के बाद नामित नोडल अधिकारी आयुक्त मेरठ मण्डल अनीता सी. मेश्राम एवं पुलिस महानिरीक्षक दीपक रत्न ने कलेक्ट्रेट में बनाये गए "कोविड 19 आपदा कन्ट्रोल रूम" का भी निरीक्षण किया तथा सम्बंधित को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।