अप्रैल की शाम दीप के साथ लाइट भी जलाएं: दुर्गा वर्मा● लाइट बंद करने से पावर ग्रिडे हो सकती है खराब, दीप जलाकर मानवता व एकता की करे रक्षा

Imran choudhry


देहरादून। देश के प्रधानमंत्री ने 5 अप्रैल की शाम जो दीप जलाने को लेकर बात कही उसका समर्थन करते हुए सिद्धार्थ लॉ कॉलेज के चेयरमैन दुर्गा वर्मा ने कहा कि देश की सभी पावर ग्रिडो को बचाने के लिए अपनी घर की लाइटे खुली रखें।
कोरोना वायरस संक्रमण की महामारी से बचने के लिए देश को लॉक डाउन किया गया है। प्रधानमंत्री ने 22 मार्च को पहली बार किए गए लॉक टाउन में शाम के समय ताली बजाकर ताली बजाने का लोगों से आग्रह किया था जिससे इस महामारी को खत्म करने में जुटे लोगों के हौसला बढाया जा सके। करोना की इस महामारी को भारतवर्ष से खत्म करने के लिए 21 दिन के हुए लोक डाउन में प्रधानमंत्री ने जो 5 अप्रैल की देर शाम 9 बजे दीप जलाने का आह्वान किया  है। उस बात का समर्थन करते हुए सिद्धार्थ लॉ कॉलेज के चेयरमैन दुर्गा वर्मा ने कहा कि मानवता की रक्षा एवं एकता के लिए दीप जलाने में कोई बुराई नहीं है।
वहीं उन्होंने कहा कि अपने देश की सभी पावर ग्रिडे को बचाने के लिए अपने घरों की लाइट खुली रखना भी अनिवार्य है। जिससे हमारी पवार ग्रिड को कोई नुकसान न पहुंचे।क्योंकि अगर इस दौरान पावर ग्रिड खराब हो जाती है। तो हजारों अस्पताल एवं हजारो ऐसी  संस्थाओं मैं बिजली की सप्लाई बंद हो जाएगी।जिससे लोगों को जीने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। प्रधानमंत्री के आह्वान के चलते मानवता कल्याण के लिए दीप जलाना जरूरी है। लेकिन इसी बीच उन्होंने कहा कि घरों की लाइट जलाना बंद न करें। प्रधानमंत्री के लाइट बंद करने के उस आह्वान  चलते बिजली बंद कर देंगे तो हमारी बहुत सारी पावर ग्रिडे खराब होने के  आसार बने हैं। उन्होंने लाइट जलाने के साथ-साथ दीप जलाने की अपील भी की है। और अपने घरों में रहकर कोरोना वायरस संक्रमण से बचे।इसी में देश कीऔर हमारी भलाई है।