नेशनल फुटबॉलर ने बच्चों को सिखाए खेल के गुर


(काज़ी अमजद अली)


मुज़फ्फरनगर


 ख्याति प्राप्त राष्ट्रीय फुटबॉलर ने घर लौटने पर होम ग्राउण्ड को नमन किया व गांव के बच्चों को फुटबॉल के गुरू सिखाए तथा सफलता के टिप्स दिये। राष्ट्रीय फुटबॉलर के संग बच्चों ने खेल का आनन्द लिया।*
*मुज़फ्फरनगर ज़िले के भोपा स्थित जनता इण्टर कॉलेज के आवास में स्कूल कर्मचारी के घर जन्मे नीशू को फुटबॉल के जुनून ने सफलता और शोहरत के ऊँचे मुकाम तक पहुंचाया है। सुविधाओं के अभाव में नीशू ने कडा परिश्रम कर फुटबॉल के खेल से सफलता प्राप्त करते हुए क्षेत्र का भी नाम रोशन किया है। बैंगलोर फुटबॉल क्लब की ओर से नीशू ने कैरियर का आगाज किया है। नीशू भारत की राष्ट्रीय फुटबॉल टीम के सदस्य हैं तथा हाल ही में सम्पन्न इण्डियन सुपर लीग में शानदार खेल का प्रदर्शन कर चुके हैं। नीशू ने डिफेन्डर की भूमिका में दर्शकों को शानदार खेल दिखाया है। फुरसत के लम्हों में घर पहुंचे नीशू ने अपनी माता के साथ घर की सफाई में भाग लिया। निर्धनता से गुजर चुके नीशू आज भी सादगी के साथ सहपाठियों से मिल रहे हैं। नीशू के अनुसार वह शीघ्र ही देश के सबसे महंगे डिफेन्डर बनने वाले हैं। नीशू के कदमों को चूमती सफलता उन्हें किस ऊँचाई तक ले जायेगी ये तो भविष्य के गर्भ में है किन्तु नीशू ने अपनी संस्कृति को आदर्श माना हुआ है। अपने घरेलू मैदान पर उतरते ही नीशू ने नमन किया। ये वही स्कूल का ग्राउण्ड है जहां से नीशू ने पैरों पर खडा होना सीखा था। नीशू ने सोमवार को गांव के बच्चों को फुटबॉल के खेल की बारीकियों के बारे में बताया तथा उनके साथ प्रैक्टिस भी की।


Popular posts from this blog

शादी में दिखावे की हदे पार, लड़की पक्ष ने विवाह स्थल पर लगवाया फ्लैस्क, लिखा :- गाडी के साढे 7 लाख नकद दिए दूल्हे को

इस्लामिया इंटर कालिज के वजूद पर खतरा मंडराया

समाज को शिक्षित व सुरक्षित रखने का संदेश दिया