किसान के बेटे शिवम चौधरी ने की जेस्ट की परीक्षा उत्तीर्ण


(काज़ी अमजद अली )
बदलते दौर ने शहर व गाँव के अंतर को कम करने का काम किया है जिसके चलते ग्रामीण क्षेत्र के युवा प्रत्येक क्षेत्र में खुद को साबित कर रहे हैं खेल हो शिक्षा राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के देहात में ग्रामीण छात्र अपनी प्रतिभाओं का प्रदर्शन कर रहे हैं गाँव देहात की एक ओर प्रतिभा ने इन प्रयासों में अपना नाम जोड़ा है मुश्किल विषय माने जाने वाले विज्ञान वर्ग में शिवम चौधरी ने जेस्ट की परीक्षा उत्तीर्ण की है। शिवम चौधरी की सफलता से परिवार सहित कस्बे में खुशी की लहर दौड गयी। गणमान्य व्यक्तियों ने छात्र को शुभकामनाएं देते हुए उसके उज्जवल भविष्य की कामना की है।
मुज़फ्फरनगर जनपद के जिला मुख्यालय से 28 km दूर 25 हज़ार की आबादी वाले  कस्बा भोकरहेडी में मौहल्ला नेहरू चौक निवासी किसान रविन्द्र चौधरी के 24 वर्षीय पुत्र शिवम चौधरी ने ज्वाइंट एंट्रेंस  स्क्रीनिंग टेस्ट की परीक्षा उत्तीर्ण करते हुए राष्ट्रीय स्तर पर 128वीं रैंक प्राप्त की है। शिवम चौधरी  ने प्राथमिक शिक्षा कस्बे में ही प्राप्त की है। रूडकी के डीएवी पब्लिक स्कूल से इण्टरमीडिएट करने के बाद बडौत के जनता वैदिक कॉलेज से बी.एस.सी की परीक्षा उत्तीर्ण की। शिवम चौधरी ने बताया कि जेस्ट की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद विज्ञान वर्ग से पीएचडी करने के लिए सरकार से स्कॉलरशिप मिलती है। शिवम् के मामा इंग्लैण्ड में शोधकर्ता हैं। मामा से मिले मार्गदर्शन के सहारे किसान के बेटे ने सफलता की ओर कदम रखा है। शिवम् की इकलौती बहन दिव्या चौधरी भी दिल्ली में उच्च शिक्षा प्राप्त कर रही है। शिवम् की सफलता से रवीन्द्र चौधरी व माता बीना रानी तथा ताऊ ओमपाल सिंह प्रसन्न है। वहीं क्षेत्रवासियों ने भी शुभम् को शुभकामना देते हुए उसके उज्जवल भविष्य की कामना की है। शुभम को शुभकामना देनेवालों में डॉ. हरपाल पंवार, कैप्टन प्रवीण चौधरी, भाजपा नेता डॉ. वीरपाल निर्वाल, कैप्टन ज्ञानेन्द्र सिंह, राजेश सहरावत, चौ. उदयवीर सिंह, रविदत्त, प्रवीण चौधरी आदि रहे।*


Popular posts from this blog

शादी में दिखावे की हदे पार, लड़की पक्ष ने विवाह स्थल पर लगवाया फ्लैस्क, लिखा :- गाडी के साढे 7 लाख नकद दिए दूल्हे को

इस्लामिया इंटर कालिज के वजूद पर खतरा मंडराया

समाज को शिक्षित व सुरक्षित रखने का संदेश दिया