बैठे रहे अधिकारी, नही आये फरियादी


अहमद हुसैन


 एडीएमएफ ने सुनी समस्याएँ।
कोरोना के मद्देनजर नहीं पहुंचे शिकायतकर्ता अकेले अधिकारी फरियादियों की ज़ोहते रहे बाट।
सरधना तहसील में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में पहुंचे एडीएमएफ  व एसपी देहात ने जनसमस्याएं सुनी। इस दौरान कुल 92 शिकायतें दर्ज की गई जिनमें से मात्र 2 शिकायतों का ही समाधान हो सका। पूर्व में लंबित चल रही 13 में से 3 शिकायतों का निस्तारण हो सका है। शेष समस्याओं के समाधान के लिए सम्बंधित विभाग के अधिकारीयों को जाँच सौंपी गई और शीघ्र निस्तारण करने के लिए कहा गया। 
सम्पूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर सरधना तहसील सभागार में पहुंचे एडीएमएफ सुभाष चंद प्रजापति व एसपी देहात अविनाश पांडे ने लोगों की समस्याएँ सुनी। इस दौरान 92 लोगों ने अपनी समस्याएँ रखते हुए उनके समाधान की गुहार लगायी। मौके पर 2 शिकायतों का ही समाधान हो सका पेंडिंग चले आरहे 13 मामलों में से भी मात्र 3 का ही समाधान हो सका। शेष सभी मामलों की जाँच संबंधित विभाग के अधिकारीयों को सौंपी गई। जिनका पूरी इमानदारी के साथ निस्तारण करने को कहा गया। इस अवसर भारती तहसीलदार अवनीश कुमार नायब तहसीलदार सीमा भारती लिपिक वसीम चौहान आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे। इस दौरान भूमि विवाद से संबंधी मामले अधिक रहे। इस दौरान आयुर्वैदिक एवं यूनानी का जागरूकता शिविर भी लगाया गया। जिसमे डॉ सर्वेश कुमार फार्मेसिस्ट वकील अहमद जयपाल सिंह ने लोगों को जागरूक करते हुए विभिन्न रोगों से संबंधित दवाइयां वितरित की ।
-------
अहमद हुसैन
True story