अलग अलग प्रदेशों में काम कर रहे लोगों का अपने गांव में पहुंचना जारी

नईम चौधरी


मीरापुर।कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के चलते लॉकडाउन के पांचवे दिन अलग अलग प्रदेशों में काम कर रहे लोगों का अपने गांव में पहुंचना जारी है। इसको लेकर ग्रामीणो में भय का माहोल बना है।
लॉक डाउन के चलते अलग-अलग राज्यों में फंसे लोग का धैर्य अब जवाब देने लगा है और लोग पैदल ही अपने घरों पर की तरफ लौटने लगे हैं। हाईवे पर लम्बा सफर तयकर आ रहे लोगो के लिये कुछ सामाजिक संस्थाओं व पुलिस द्वारा भोजन की व्यवस्था की जा रही है। मीरापुर के गांव केथोड़ा, मुझेडा संभलहेड़ा, कुतुबपुर आदि गांवों में लोगों का पहुंचना जारी है। वहीं इन लोगो के क्षेत्र में आने पर भय का माहोल भी बन गया है। पुलिस ने बाहर से आने वाले लोगो को रोकने की कौशिश की परन्तु भारी भीड का रोका जाना मुश्किल साबित हो रहा है जिसको लेकर ग्रामीणों में कोरोना संक्रमण बढ़ने का भय व्याप्त है ग्रामीणो नेे दूसरे प्रदेशों से गांव में आ रहे लोगों को गांव में आने से रोका और स्वास्थ्य विभाग से जांच कराने के बाद ही गांव गांव में प्रवेश करने के लिए कहा गया जिस को लेकर कई जगह कहा सुनी भी हुई। पीएचसी मीरापुर में तैनात डा. सजीव कुमार का कहना है कि जो लोग गांवो में वापस आ रहे हैं उनमें कोरोना के कोई लक्षण अगर दिखाई देते हैं तो तुरन्त हमसे सम्पर्क किया जा सकता है। जानसठ सीएचसी पर कोरोना वायरस के लिये स्पेशल कन्ट्रोल रूम बनाया गया है जहां से 24 घंटे पूरी स्थिति पर नजर रखी जा रही है। फिलहाल मीरापुर क्षेत्र में कोई भी कोरोना संक्रमित व्यक्ति नही पाया गया है। उधर थानाध्यक्ष एच.एन. सिंह ने कहा कि लोग बेवजह की अफवाह न फैलायें ओर सभी लाक डाउन का पालन करते हुए अपने अपने घरो में ही रहें। नियम व कानून तोडने लोगो के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जायेगी।


Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद

चाऊमीन खिलाने के बहाने घर से बुलाकर ले गए युवक की दोस्तों ने ही सिर में गोली मारकर हत्या