निर्भया के कातिलों पर कार्यवाही में देरी क्यो

 


इरम खान


स्वतंत्र लेखिका
रिलेशनशिप मैनेजर
माउंट लिट्रा



अगर हमारा संविधान दोषियों के खिलाफ कोई कार्रवाई करने के लिए कमजोर है .. तो मेरी नज़र में इस समस्या का समाधान है ...
 पीड़ितों को अपना बदला लेने की अनुमति दें या माताओं के गर्भ में भ्रूण के लिंग निर्धारण की अनुमति दें ताकि, माता-पिता अपना निर्णय लें बालिका को जन्म देना या न देना .... कम से कम निर्भया जैसी बेटी के खोने पर यह उतना दर्दनाक नहीं होगा ... मैं  न्यायालय से अपील करती हूं कि बहन निर्भया के कातिलों को जल्द फांसी देने के लिए मजबूत कानूनी दशा तय करें न्यायधीश जी सख़्त क़ानूनन फ़ैसला मन से सोचकर अंतरात्मा की आवाज सुन कर दें ताकि शीघ्र न्याय एक ठोस संदेश होगा उन महिलाओं पर जुल्म करने वाले जानवर रूपी दोषियों के लिए जो सभ्य समाज में भेड़िए का रूप लेकर वहशत से भरे हैं।


Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

शादी में दिखावे की हदे पार, लड़की पक्ष ने विवाह स्थल पर लगवाया फ्लैस्क, लिखा :- गाडी के साढे 7 लाख नकद दिए दूल्हे को

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद