शिक्षा के साथ-साथ खेल भी जरूरी


                    अहमद हुसैन
प्रत्येक बच्चों में कुछ ना कुछ ऐसी खूबी होती है जिसको कभी-कभी वह भी नहीं  जानते लेकिन बच्चा जब कुछ सीखने का प्रयास करता है तो  उसमें कामयाब भी होता है बशर्ते उसे सिखाने वाला गुरु अच्छा मिल जाए माना जाता है के माता-पिता के बाद सर्वप्रथम बच्चे की पाठशाला स्कूल  और उसके गुरु जन होते हैं और अच्छे गुरुओं के सानिध्य में रहकर  छात्र-छात्राएं पढ़ाई के साथ साथ खेल के मैदान में भी कामयाबी की तरफ बढ़ जाते हैं सरधना  सेंट जेवियर्स वर्ल्ड स्कूल में छात्र छात्राओं को एक ऐसे खेल की शुरुआत कराई जो जो सैकड़ों साल पहले खेला जाता था इस पारंपरिक खेल का नाम है ,आत्या पात्या, और इसी पारंपरिक खेल में सरधना के सेंट जेवियर्स वर्ल्ड स्कूल के छात्र-छात्राओं ने बेस्ट परफॉर्मेंस देकर अपने स्कूल का नाम रोशन किया स्कूल के
  छात्र-छात्राओं ने महाराष्ट्र में आयोजित दस दिवसीय नेशनल लेवल पर हुए खेल ,आत्या पात्या,  में भाग लेकर अच्छा प्रदर्शन किया। इस खेल में सभी 28 स्टेटस केरला तमिलनाडु राजस्थान हरियाणा यूपी मध्य प्रदेश इत्यादि ने भाग लिया। सेंट जेवियर वर्ल्ड स्कूल के-छात्राओं ने यूपी की तरफ से खेला। जिसमें उनका प्रदर्शन बहुत अच्छा रहा। उनके साथ लखनऊ मेरठ फैजाबाद के बच्चों ने भी भाग लिया। विद्यालय के पुरुष वर्ग टीम में सागर, आयुष,राहुल, आर्यन,आकर्ष,अरविंद,सचिन, आदित्य, आदि तथा महिला वर्ग टीम मैं सिया, नेहा, आदि ने भाग लेकर अपने विद्यालय का नाम ऊंचा किया। इस उपलब्धि में  छात्रों को यूपी सरकार द्वारा पुरस्कार से नवाजा गया। जिसमें उन्हें ट्रैक सूट जूते इत्यादि दिए गए।ईस प्रतियोगिता में कोच महेंद्र, गुप्ता, व पवन  का बच्चों को नेशनल कैंप द्वारा यहां तक पहुंचाने में महत्वपूर्ण सहयोग रहा। विद्यालय की प्रधानाचार्य श्रीमती  रितु सखूजा ने भी बच्चों की इस उपलब्धि पर सराहना की तथा उन्हें प्रमाण पत्र देकर उनका उत्साहवर्धन किया ।,,,


अहमद हुसैन
True story


Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद

चाऊमीन खिलाने के बहाने घर से बुलाकर ले गए युवक की दोस्तों ने ही सिर में गोली मारकर हत्या