अपने काम से अमर कर गए गांव छबड़िया का नाम


(अहमद हुसैन)


हर्षोल्लास से मनाई वैध चन्द्र प्रकाश की स्वर्ण जयंती   
 स्वर्गीय वैध चन्द्र प्रकाश के जन्म स्थल पर उनकी स्वर्ण जयंती हर्षोल्लाष के साथ मनाई गयी। इस दौरान उनकी जीवनी पर प्रकाश डालते हुए बताया गया कि जनपद मेरठ के सरधना क्षेत्र के गांव छबडिया गांव में स्वर्गीय वैध चंद्रप्रकाश का जन्म 1919 में लाला नंदलाल के घर में हुआ था। देहात क्षेत्र में शिक्षा प्राप्त करने के साथ आयुर्वैदिक जड़ी बूटियों द्धारा विभिन्न रोगों से पीड़ित लोगों का उपचार करना शुरू किया। इसी दौरान उन्होंने कैंसर जैसी घातक और जानलेवा बीमारी का उपचार करना शुरू किया जिसमे उन्हें कामयाबी मिली और वह इस रोग से मुक्ति दिलाने के लिए उपचार में नाम कमाने लगे। और आगे बढ़ते चले गए उन्होंने हजारों लोगों का उपचार कर उनकी जान बचाई। बताया गया कि आयुर्वेदाचार्य श्री कृष्ण देव चैतन्य पाराशर यायावर ऋषिकेश शिष्य बनकर ज्ञान प्राप्त करने वाले वैध चंद्रप्रकाश ने 1964 में सर्वप्रथम कैंसर की दवा बनाकर सैकड़ों मरीजों को ठीक किया उनकी प्रसिद्धि के कारण पूर्व राष्ट्रपति राजेन्द्र प्रसाद भी अपना इलाज उन्ही से कराते थे। उनके दूसरे नंबर के पुत्र वैध बालेंद्र प्रकाश ने भी अपने पिता की प्रेरणा से कैंसर की दवा बनाई और उन्होंने भी काफी मरीजों का उपचार कर उन्हें ठीक किया। वैध बालेन्द्र प्रकाश ने भी अपने अथक परिश्रम मेहनत लगन से इस क्षेत्र में उन्नति करते हुए प्रसिद्धि प्राप्त की। जिससे प्रभावित होकर वर्ष 1999 में माननीय राष्ट्रपति द्वारा उन्हें पदम श्री की उपाधि से विभूषित कर सम्मानित किया गया। वैध बालेंद्र प्रकाश ने आज अपने पिता की जन्मस्थली ग्राम छबडिया में अपने पूरे परिवार व ग्राम वासियों के साथ पूरे हर्षोल्लास के साथ स्वर्गीय वेद चन्द्र प्रकाश की स्वर्ण जयंती मनाई। इस दौरान चंद्र स्मृति पत्रिका का भी विमोचन किया गया। इन अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में आयुर्वेदिक डॉक्टर पीके प्रजापति (डीन ऑल इंडिया आयुर्वेदिक दिल्ली)  डॉक्टर जी एस तोतेजा (एडीशनल डायरेक्टर जनरल इंडियन काउंसिल मेडिकल रिसर्च) डॉक्टर दिनेश कटोल (एडवाइजर आयुर्वेदिक गवर्नमेंट ऑफ इंडिया) रहे।  इस अवसर पर वैश्य समाज सरधना के अध्यक्ष शैलेंद्र गुप्ता सत्य प्रकाश गुप्ता सुशील गुप्ता आशीष गुप्ता कालू प्रधान छबड़िया के पूर्व प्रधान जगदीश सिंह योगेंद्र गुप्ता विश्वास गोयल धर्मपाल गोयल कृष्ण गोयल सुनील गोयल चौधरी सुंदर सिंह चौधरी लोकेंद्र सिंह वीरेंद्र गोयल आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे,,।


अहमद हुसैन
True स्टोरी