17 फरवरी से शुरू होगा टीबी रोगी खोज अभियान

Sanjay varma


 मेरठ, 17 जनवरी 2020 । देश को 2025 तक टीबी रोग से मुक्त करने के लक्ष्य के साथ जिला क्षय रोग विभाग एक बार फिर सघन टीबी रोगी खोज अभियान (एसीएफ) शुरू करने जा रहा है। 10 दिवसीय अभियान 17 फरवरी से शुरू होगा। इसके लिए शीघ्र ही टीम गठित की जाएंगी। उन्हें ट्रेनिंग दी जाएगी, जिसमें उन्हें बताया जाएगा कि घर जाकर लोगों से कैसे पेश आना है और कौन-कौन से सवाल करने हैं।
जिला क्षय रोग अधिकारी (डीटीओ) डा. एमएस फौजदार ने बताया घर-घर जाने वाली टीम, वहां मौजूद हर सदस्य से बात करके यह जानकारी जुटाएंगी कि घर में किसी को 15 दिन से बुखार या खांसी तो नहीं है। बलगम में खून तो नहीं आ रहा है या फिर वजन तो नहीं गिर रहा है। इनमें से कोई भी लक्षण किसी सदस्य को होने पर टीम उसका बलगम का सेंपल लेगी और उसकी जांच कराएगी। यदि जांच में टीबी पाई गई तो मेडिकल सुपरवाइजर उसका टीबी का उपचार शुरू करेगा। उन्होंने बताया टीबी का एक मरीज 10 से 15 लोगों को संक्रमित कर देता है, इसलिए उसकी जल्दी पहचान होने के बाद तत्काल उपचार शुरू होना जरूरी है। यदि एक भी मरीज पहचान हुए बिना रह गया तो कड़ी टूट जाएगी।
सन् 2017 से शुरू हुआ था टीबी रोगी खोज अभियान
डा. फौजदार ने बताया सरकार ने अगस्त सन् 2017 से टीबी रोगी खोज अभियान शुरू किया था। तब से यह अभियान समय-समय पर चलाया जाता है। उन्होंने कहा अभियान से फैली जागरूकता का ही नतीजा है कि जनपद में टीबी के रोगी इलाज के लिए आने लगे हैं। उन्होंने बताया जनपद में अगस्त 2017 में चलाए गये अभियान में 82 रोगी मिले थे। मार्च 2018 में 78 रोगी, जून 2018 में 65 रोगी, सितम्बर 2018 में 62 रोगी, जनवरी 2019 में 46 रोगी, जून 2019 में 38 रोगी, अगस्त 2019 में 53 रोगी मिले। उन्होंने बताया वर्तमान समय में टीबी के 6000 मरीजों का सरकारी व 3300 मरीजों का उपचार प्राइवेट अस्पतालो में चल रहा है।
डीटीओ की अपील
जिला क्षय रोग अधिकारी डा. फौजदार ने लोगों से अपील की है कि वह लक्षणों के आधार पर जांच जरूर कराएं। किसी भी स्थिति में रोग को छिपाएं नहीं। यह उनके और उनके परिवार के सदस्यों के लिए घातक हो सकता है। सरकारी अस्पतालों में इसकी जांच और इलाज मुफ्त होता है।


Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद

चाऊमीन खिलाने के बहाने घर से बुलाकर ले गए युवक की दोस्तों ने ही सिर में गोली मारकर हत्या