अपनी रक्षा खुद करेंगी लड़कियां, छात्राओं को सिखाएं गुर

(     अहमद हुसैन)


अजीब सा माहौल है बेटी सुबह बस्ता लेकर जब घर से निकलती है तो छुट्टी तक माता पिता के दिल में एक परेशानी सी रहती है। जब तक बेटी घर ना आ जाए तब तक चैन नहीं आता। आज के समय मैं परिस्थितियां बहुत बदली हुई है बच्चियों के साथ हर तरफ हो रहे रेप और छेड़छाड़ की घटनाओं से चैन मिलता नजर नहीं आ रहा है। जिसको देखते हुए। कुछ शिक्षण संस्थाएं पढ़ाई के साथ साथ बच्चियों को आत्म रक्षा के तौर तरीके सिखाने की फिक्र कर रही है। इसी कड़ी में आज सरधना के बिनोली रोड स्थित 
एसजी वर्ल्ड स्कूल में छात्राओं को आत्म रक्षा हेतु कई प्रकार के गुर  सिखाई गए। ट्रेनर
 अब्दुल रहमान ब्लैक बेल्ट सेकंड डॉन राष्ट्रीय रैफरी। चार बार नेशनल  खेल चुके हैं और 8 वर्ष से टाई कोंडो में लगातार कार्यरत है। अब्दुल रहमान ने अपने अनुभव से सभी लड़कियों को अपनी आत्मरक्षा करने के तरीके सिखाए। ताकि वह भविष्य में किसी भी प्रकार की कठिनाई आने पर अपनी आत्मरक्षा के लिए उसका उचित प्रयोग कर सकें। स्कूल सचिव संजय चौधरी ने कहा कि आज के कंपटीशन से भरे इस दौर में जहां बच्चों को भरपूर पढ़ने की और अपने भविष्य को संवारने की आवश्यकता है वही आजकल के माहौल को देखते हुए लड़कियों को आत्मनिर्भर बनने के लिए हमारे विद्यालय एस० जी० वर्ल्ड स्कूल में यह सुविधा लड़कियों को प्रतिदिन टाई कोंडो की शिक्षा दी जाएगी। हमारा प्रयास है कि हम उच्च शिक्षा के साथ-साथ बच्चों को आत्मनिर्भर बनाए तथा उनको अपनी रक्षा करने के गुण सिखा सकें जिससे वह आत्म-निर्भर बन सकें। इस अवसर पर राशि, खुशी,इशिका,नव्या सिम्मी अनन्या योगिता महक शिया तनु अनुभा कशिश उज्जवल आदि ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया।,,,,,,


 अहमद हुसैन 
  ट्रू स्टोरी