सीएचसी पर बनी पैथोलॉजी लैब में लगेंगे अत्याधुनिक उपकरण ,उपलब्ध उपकरणों और एसेसरीज की सूची मांगी शासन ने

 


मेरठ(संजय वर्मा)। मेरठ समेत प्रदेश के जिलों के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों (सीएचसी) में बनी पैथोलॉजी लैब के दिन संवरने वाले हैं। इससे वहां पहुंचने वाले मरीजों को जांच कराने के लिये परेशान नहीं होना पड़ेगा। शासन ने मेरठ समेत प्रदेश के 821 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों का सुद्ढ़ीकरण करने के लिये तैयारी पूरी कर ली है। इसके लिये 821 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्दों पर उपलब्ध उपकरण व एसेसरीज की सूची मांगी गयी है। जरूरत के हिसाब से वहां अत्याधुनिक उपकरण लगाये जायेंगे ।
 चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं महानिदेशक पद्माकर सिंह की ओर से जिला मुख्यालयों को पत्र जारी कर कहा गया है कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत 821 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर पैथोलॉजी लैब का सुद्ढ़ीकरण एसजीपीजीआई व केजीएमयू के विशेषज्ञों द्वारा दी गयी रिपोर्ट के अनुसार कराया जाना प्रस्तावित है। उसी के द्ष्टिगत शासन ने जिलों की लैब में उपलब्ध उपकरणों व ऐसेसरीज की बिंदुवार सूची मांगी है। इसमें हरएक केन्द्र पर उपकरणों की संख्या, स्थापना का वर्ष, क्रियाशील व-अक्रियाशील उपकरण व उनके संचालन के उपलब्ध मानव संसाधन पैथोलॉजिस्ट एवं लैब टेक्निशियन का ब्योरा तलब किया है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. राजकुमार ने बताया जिले की 12 सीएचसी की सूची बना कर भेजी गयी है।
 इन उपकरणों की मांगी सूची
 हीमोटोलॉजी 3पार्ट सेल काउंटर, यूरीन एनालाइजर, इलेक्ट्रोलाइट एनालाइजर, कोम्लोमीटर, सेमी ऑटो एनालाइजर, ईएसआर एनालाइजर अन्य ऐसेसरीज सेन्ट्रीफ्यूज, वाटरबाथ, माइक्रोस्कोप, यूपीएस, फीजर ।
 मरीजों को मिलेगा इसका लाभ
 दरअसल जिलों की सीएचसी में स्थित पैथोलॉजी लैब में ज्यादातर उपकरण काफी पुराने हो चुके हैं। इनमें रिपोर्ट सटीक नहीं आ पाती है। इसके कारण मरीजों को प्राइवेट अस्पतालों की ओर रुख करना पड़ता है। अत्याधुनिक उपकरण लगने से मरीजों का परीक्षण सीएचसी पर हो सकेगा।