मंत्री कपिल देव का आई टी आई पर छापा

मुजफ्फरनगर । स्वतंत्र प्रभार मंत्री कपिल देव अग्रवाल ने राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान मुजफ्फरनगर का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान संस्थान में बदहाल व्यवस्थाओं को देखकर मंत्री कपिल देव ने नाराजगी वयक्त की और प्रधानाचार्य को संस्थान की व्यवस्थाओं में जल्द से जल्द सुधार करने के सख्त निर्देश दिये।
विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए कपिल देव ने कहा कि वे कुंठित मानसिकता को त्यागकर परिश्रम कर भविष्य की मजबूत नींव तैयार करें और अपने माता-पिता के सपनों को साकार कर देश के निर्माण में भागीदार बने।
मुजफ्फरनगर में मेरठ रोड स्थित राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान में आज व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास मंत्री कपिल देव अग्रवाल ने औचक निरीक्षण किया जिसके दौरान मंत्री ने सफाई व्यवस्था, प्रशिक्षण ले रहे बच्चों के बैठने की व्यवस्था, संस्थान में मौजूद अध्यापकों की कार्यशैली, भवन आदि को परखा जिसमें काफी खामियां पायी गई।
एक महिला इंसट्रक्टर द्वारा छात्राओं की जल्दी छुट्टी किये जाने पर मंत्री ने कडी नाराजगी व्यक्त की और पुनरावृत्ति न किये जाने की चेतावनी दी।
मंत्री ने प्रधानाचार्य को कडी चेतावनी देते हुए कहा कि माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और उत्तर प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी स्वच्छता अभियान को लेकर आये दिन कार्यक्रम आयोजित करा रहे हैं और साफ-सफाई के लिए लोगों को प्रेरित कर रहे हैं वहीं दूसरी ओर संस्थान में जिस प्रकार व्यवस्थाएं अस्त-व्यस्त हैं, ये काफी गंभीर विषय है। यदि संस्थान की व्यवस्थाओं को नहीं सुधारा गया तो सख्त कार्यवाई होगी। कपिल देव ने कहा कि संस्थान में सप्ताह में एक बार सामूहिक सफाई अभियान चलाया जाये।
मंत्री ने प्रशिक्षकों को कहा कि हमारा उद्देश्य बच्चों को प्रशिक्षित कर उनको कुशल बनाना है जिससे वे अपनी जीविका उपार्जित कर सके और देश की आर्थिक स्थिति को सुदृढ बनाने में योगदान दे सके। बच्चों को इस प्रकार से प्रशिक्षित करें जिससे वे स्वःरोजगार कर सके और अन्य लोगों को भी रोजगार दे सके।


Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद

चाऊमीन खिलाने के बहाने घर से बुलाकर ले गए युवक की दोस्तों ने ही सिर में गोली मारकर हत्या