गन्ना क्रय केंद्र पर 4 दिन पूर्व तोल  लिपिक से  मारपीट का मामला । कई दिनों से तोल ना होने के कारण सूखने के कगार पर किसानों का गन्ना। किसानों एवं मिल अधिकारियों के बीच वार्ता विफल।


Sardhana..पांच दिन पूर्व तौल लिपिक के साथ हुई मारपीट के बाद बंद हुए तौल सेंटर को चालू कराने की मांग को लेकर किसान धरने पर बैठ गए। सूचना पर मौके पर पहुँचे मिल  अधिकारियों ने किसानों को आश्वासन दिया कि जल्द तौल बाबुओं से वार्ता कर सेंटर पर तौल चालू कराने का प्रयास किया जाएगा। ज्ञात हो कि चार  दिन पूर्व किनोनी शुगर मिल के  गांव जटपुरा स्थित तौल सेंटर पर नियुक्त तौल बाबू के साथ किसानों ने मारपीट कर दी थी। जिसके बाद तौल बाबुओं ने अपने साथी के समर्थन सभी सेंटरों की तौल बंद कर दी थी। वहीं जटपुरा गांव के सेंटर पर कोई तौल बाबू जाने के लिए तैयार नहीं है। जिसके कारण किसानों का गन्ना न तुलने की वजह से खेत मे ही पड़ा हुआ सूख रहा है। किसानों को गेहूं की फसल बोने के लिए भी देर हो रही है। वहीं मिल के कैन मैंनेजर अनिल चौधरी ने किसानों को जल्द तौल शुरू कराने का आश्वासन देकर धरना समाप्त करने का आग्रह किया। लेकिन किसान आश्वासन मिलने के बाद भी तौल चालू न होने तक धरने पर डटे रहने की बात कर रहें है।


अहमद हुसैन 
True story