16 नवम्बर से समालखा में आयोजित होगा ‘संत निरकारी मिशन' का तीन-दिवसीय 72वाँ  निरंकारी सन्त समागम

मुजफ्फरनगर।  प्रेम, शांति एवं मानवता को समर्पित 'संत निरकारी मिशन' का तीन-दिवसीय 72वाँ  निरंकारी सन्त समागम 16 से 18 नवम्बर को आयोजित करने जा रहा है। सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज ने समागम स्थल पर तैयारियों का उद्घाटन 6 अक्तूबर 2019 को अपने कर-कमलों द्वारा किया। तभी से 4000 से भी अधिक सन्त निरंकारी सेवादल के सदस्य तथा अन्य श्रद्धालु भक्त प्रत्येक दिन सेवा कर रहे हैं। पिछले कई वर्षो की भांति इनमें दिल्ली और हरियाणा के अलावा अन्य राज्यों से आकर भी श्रद्धालु भक्त सेवा कर रहे हैं। सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज की पावन छत्रछाया में आयोजित होने वाले इस समागम में मुजफ्फरनगर व शामली जनपद के अनेक शहरी व ग्रामीण इलाकों से हजारों श्रद्धालुगण मानवता के इस महाकुम्भ में सम्मिलित होंगे। यह समागम 'सन्त निरंकारी आध्यात्मिक स्थल' जी.टी. रोड, समालखा में आयोजित किया जा रहा है, जो कि 615 एकड़ से भी अधिक क्षेत्र में फैला हुआ है। समागम में जहां भारत के विभिन्न प्रान्तों से लाखों की संख्या में हर वर्ष की भांति भक्तों के आने की सम्भावना है, वहीें दूर देाों से भी हजारों प्रतिनिधियों के सम्मिलित होने की सम्भावना है। मीडिया प्रवक्ता सुशील अंश ने मुजफ्फरनगर में true स्टोरी को बताया कि समागम का आगाज़ 16 नवम्बर को दोपहर लगभग 1.00 बजे सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज के समागम स्थल पर आगमन के साथ होगा।  अगुवाई समागम कमेटी के सदस्यों द्वारा समस्त साध संगत की ओर से स्वागत के उपरांत  यात्रा के रूप में मुख्य मंच तक की जायेगी।