रात को 10 बजे के बाद पटाखे चलते मिले तो खैर नही: सी ओ

सरधना!भारतीय संविधान में दी गई व्यवस्थाओं के अंतर्गत, व्यवस्थापिका द्वारा कार्य करने के लिए भारतीय पुलिस को जिम्मेदारी दी गई है। जहां लॉ एंड ऑर्डर कायम करने की बात आती है वही पुलिस का नाम सर्वप्रथम लिया जाता है किसी भी बड़े कार्यक्रम, उत्सव, या त्योहार,पर पुलिस सक्रिय होकर अपनी जिम्मेदारी निभाती है लेकिन यही पुलिस, पब्लिक के बगैर अधूरी है। इसी कड़ी में आज सरधना थाना परिसर में पुलिस और आम पब्लिक यानी शांति समिति के लोगों की एक बैठक आयोजित की गई। जिसमें दीपावली व अन्य कई त्योहारों पर शांति व्यवस्था रखने में शांति समिति के लोगों के सहयोग  मांगा गया शांति समिति के गणमान्य लोगों ने त्योहार पर होने वाली कई आम समस्याओं के बारे में पुलिस को अवगत कराया बैठक में मौजूद पश्चिम उत्तर प्रदेश संयुक्त व्यापार मंडल के अध्यक्ष वीरेंद्र चौधरी ने बैठक में मौजूद पुलिस क्षेत्राधिकारी से नगर में हो रहे छोटे-मोटे अपराधों पर नजर रखने के लिए विशेष,पुलिस टीम गठित कर रात में गश्त बढ़ाने की बात कहीं।सरधना व्यापार मंडल के अध्यक्ष पंकज जैन ने पुलिस से असामाजिक  तत्वों के ऊपर सख्त नजर रखने की की मांग की।नगर में गुरुवार को धार्मिक पोस्ट डालने के आरोपी पर कारवाही करने एवं उस को गिरफ्तार करने का मामला भी विशेष तौर पर कई लोगों द्वारा उठाया गया। जिस पर पूर्व चेयरमैन असद गालिब ने समाज के जिम्मेदार लोगों द्वारा अपने बच्चों को समझाने की बात रखी हालांकि बैठक का आयोजन दीपावली पर शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए किया गया था। परंतु बात समाज को सुधारने तक सीमित होकर रह गई। शांति समिति की इस बैठक में ग्रामीण क्षेत्रों से ग्राम प्रधानों को भी बुलाया गया था परंतु उनको नहीं सुना गया।और ना ही उनसे कोई सुझाव मांगा गया।  



क्षेत्राधिकारी पंकज सिंह ने कहां के त्योहारों पर किसी भी प्रकार की अव्यवस्था ना हो इसके लिए पुलिस ने कमर कस ली है साथ ही बताया के पटाखे चलाने का समय रात,8 से 10बजे रखा गया है इसके बाद अगर कोई पटाखे चलाता हुआ मिला तो उस पर पुलिस द्वारा सख्त कार्रवाई की जाएगी। बैठक में आए मंगू प्रधान, ग्राम प्रधान दुर्वेशपुर नसीम खान ,सपा नेता मंजूर मलिक ,मुख्तार खान, समर कुरैशी ,शिक्षक नेता दीपक शर्मा, बाबु सूर्यदेव, काजी समीर ,नगर चेयरमैन पुत्र शावेज अंसारी, संयुक्त व्यापार मंडल के अध्यक्ष संजय त्यागी,पियूष त्यागी, व अन्य कई गणमान्य लोगों ने पुलिस को सहयोग देने का वादा किया।
अंत में बैठक में आए सभी गणमान्य लोगों का थाना प्रभारी उपेंद्र मलिक ने आभार व्यक्त किया।


अहमद हुसैन
True story