गांधी जयंती पर गोडसे का पुतला फूंका सपाइयों ने

गांधी की हत्या सेक्युलर विचार की हत्या थी-शमशेर मलिक


●समाजवादी पार्टी के दर्जनों कार्यकर्ताओं ने रुड़की रोड स्थित सपा युवजन सभा के पूर्व जिला अध्यक्ष शमशेर मलिक के प्रतिष्ठान पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती पर महात्मा गांधी के चित्र पर पुष्प अर्पित करके श्रद्धांजलि दी।


 


 


इसके बाद समाजवादी पार्टी के दर्जनों कार्यकर्ता पूर्व युवा जिला अध्यक्ष शमशेर मलिक के नेतृत्व में गोडसे मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए अहिल्याबाई चौक पर पहुंचे तथा यहां पर राष्ट्रपिता के कातिल नाथूराम गोडसे का पुतला दहन किया। इस दौरान पूर्व जिला अध्यक्ष शमशेर मलिक ने बताया कि भारत के इतिहास में 2 अक्टूबर का विशेष महत्व है क्योंकि 2 अक्टूबर को अहिंसा के पुजारी महात्मा गांधी का जन्म हुआ था जिन्होंने भारत की आजादी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। गांधी जी ने चंपारण सत्याग्रह, नमक सत्याग्रह, अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन चलाकर अंग्रेजों को देश छोड़ने पर मजबूर कर दिया था लेकिन आर एस एस की विचारधारा से प्रभावित नाथूराम गोडसे ने 30 जनवरी 1948 को अहिंसा के पुजारी महात्मा गांधी की हत्या कर दी थी। श्री मलिक ने बताया कि हत्या किसी व्यक्ति की नहीं बल्कि सेक्युलर विचार हत्या थी। इसलिए आज हम समाजवादी लोग गोडसे का पुतला फूंक कर गांधी जी को उनकी जयंती पर श्रद्धा सुमन अर्पित कर रहे हैं।इस दौरान यहां पर युवा सपा नेता अताउर रहमान, वसीम अंसारी एडवोकेट, तरन्नुम राणा,सुहेल मलिक सुमित पाल, दीपक कुमार, राव वसीम, कुर्बान अली,सनव्वर खान, संदीप प्रजापति, सलीम अंसारी,नादिर आलम, दानिश सिद्दीकी, वसीम सलमानी आदि मौजूद रहे..


Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद

चाऊमीन खिलाने के बहाने घर से बुलाकर ले गए युवक की दोस्तों ने ही सिर में गोली मारकर हत्या