डॉक्टर की लापरवाही से गई मासूम की जान

 


बागपत के बड़ौत कोतवाली क्षेत्र के एक अस्पताल में उस समय हंगामा खड़ा हो गया जब डॉक्टर की लापरवाही से एक मासूम बच्ची की दर्दनाक मौत हो गयी । परिजनों का आरोप है कि डॉक्टर से समय से उपचार नही किया और बच्ची को तेज़ बुखार था । बच्ची की मौत के बाद परिजनों ने भी अस्पताल में जमकर हंगामा किया और अस्पताल में रखने सामान में भी तोड़फोड़ करते हुए सामान सड़क पर फेंक दिया । वही लापरवाह डॉक्टर और कर्मचारी हॉस्पिटल में हंगामा होता देख आनन फानन में मौके से भाग निकले ।


दरअसल आपको बता दे कि  बागपत कोतवाली क्षेत्र के गौरीपुर गॉव निवासी नितिन चौहान की 6 साल की बेटी को तेज बुखार था जिसके चलते परिजनों ने आज बड़ौत के वीर बाल चिकित्सालय में डॉ विनोद जैन के यहां उसे भर्ती कराने पहुँचे थे । आरोप है कि डॉक्टर ने लापरवाही की ओर दोपहर से रात तक डॉक्टर ने उपचार नही किया और जब आये तो कहने लगे बच्ची लेकर यहां से चले जाओ लेकिन तब तक नितिन की मासूम बच्ची राधिका इस दुनिया से दूर जा चुकी थी यानी उसकी दर्दनाक मौत हो चुकी थी । मासूम की मौत के बाद गुस्साए परिजनों ने भी अस्पताल में जमकर हंगामा किया और तोड़फोड़ की , अस्पताल में रखे सामान को बाहर सड़क पर फेंक दिया और हंगामा करने लगे । हंगामा होता देख अस्पताल से डॉक्टर और कर्मचारी मौके से भाग निकले । जिसके बाद सूचना पर एसएचओ बड़ौत मय पुलिस फ़ोर्स मौके पर पहुँचे ओर पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली । फिलहाल मासूम बच्ची की मौत से परिजनों का रोरोकर बुरा हाल है और सूचना पर पहुँची बड़ौत कोतवाली पुलिस मामले की तफ्तीश में जुट गई है ।,,,