बहन के आशिक की शराब पिलाकर कर दी हत्या

मीरापुर थाना क्षेत्र के ग्राम बलीपुरा से पिछले चार दिन से लापता एक युवक की उसके दोस्तों ने गला घोटकर हत्या कर दी तथा शव को जंगल में फैंक दिया। पुलिस ने मृतक युवक का शव बरामद कर पोस्टमार्टम को भेज दिया। मामला अलग-अलग समुदाय का होने से भारी पुलिस बल तैनात रहा। पुलिस ने एक हत्यारोंपी को गिरफ्तार कर लिया।
ग्राम बलीपुरा निवासी इरशाद पुत्र महबूब (30 वर्ष) गत शनिवार को अपनी बाइक पर सवार होकर अपने एक दोस्त से मिलने के लिए कासमपुर खोला जाने को कहकर गया था। किंतु इसके बाद वह वापिस नही लौटा। जिस पर सोमवार को युवक के पिता महबूब ने अपने पुत्र की गुमशुदगी दर्ज करायी। जिस पर पुलिस ने कार्यवाही करते हुए उसके दोस्त कासमपुर खोला निवासी दीपक पुत्र शीशपाल को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ की। जिस पर युवक ने ग्राम कैलापुर निवासी छोटू पुत्र पूरणनाथ के साथ मिलकर पहले तो इरशाद को शराब पिलाई तथा बाद में उसका गला घोटकर हत्या कर दी और शव को छिपाने के लिए जंगल में फैंकने की बात बताई। युवक की हत्या किए जाने की सूचना से पुलिस में हडकम्प मच गया तथा आनन फानन में मीरापुर इंस्पेक्टर पंकज त्यागी ने पकडे गए युवक दीपक की निशानदेही पर भारी पुलिस फोर्स के साथ जंगल में शव की तलाश की। किंतु रात्रि में कोई सफलता नही मिली तथा सवेरा होने पर पुलिस पुनः लापता युवक इरशाद के शव की तलाश करने के लिए जंगल में पहुंच गई तथा यहां पर उसका शव मिल गया। जिसके बाद पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। पुलिस ने दीपक पुत्र शीशपाल व छोटू पुत्र पूरणनाथ के विरूद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया। मामला अलग अलग समुदाय से जुडा होने के कारण भारी पुलिस बल तैनात रहा। पत्रकारों से वार्ता करते हुए एसपी देहात नेपाल सिंह व सीओ जानसठ धनंजय कुशवाहा ने बताया कि हत्या में शामिल एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। लापता युवक की हत्या अवैध संबंधों के चलते हुई है तथा मृतक युवक के दीपक की बहन से अवैध संबंध थे जिसकी जानकारी उसे लगी तो उसने अपने साथी छोटू के साथ मिलकर उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी।

एसपी देहात नेपाल सिंह का कहना है कि आरोपी दीपक व छोटू ने नशे में मृतक इरशाद के दीपक की बहन से अवैध सम्बन्ध के चलते उसकी गला घोंटकर हत्या की थी तथा फरार छोटू की तलाश में दबिश दी जा रही है।

परिवार में मचा कोहराम
मीरापुर- ग्राम बलीपुरा से चार दिन से लापता चल रहे युवक इरशाद का मंगलवार को जंगल में शव मिल गया। जिसकी सूचना गांव में पहुंचते ही परिवार में कोहराम मच गया। पति की मौत से उसकी पत्नि राबिया तथा दो छोटे छोटे बच्चे पुत्री जैदा व पुत्र असद का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। इतना ही नही मृतक का भाई कई बार बेहोश होकर गिर पडा।

पुलिस ने की त्वरित कार्यवाही
मीरापुरः मीरापुर पुलिस ने इस हत्याकांड का 24 घंटे से पहले ही खुलासा कर दिया। जिससे मृतक के परिजनों ने पुलिस द्वारा की गई त्वरित कार्यवाही को सराहा तथा थाने में मौजूद सीओ जानसठ से मिलकर उन्हे त्वरित कार्यवाही करने पर धन्यवाद किया। बता दें कि सोमवार को पुलिस ने मृतक के पिता महबूब की तहरीर पर उसकी गुमशुदगी दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी थी। इंस्पेक्टर पंकज त्यागी ने त्वरित कार्यवाही करते हुए लापता युवक का शव बरामद कर लिया तथा हत्या के आरोपितों की तलाश में ताबडतोड दबिश देकर कासमपुर खोला निवासी दीपक को गिरफ्तार कर मामले का खुलासा कर दिया।