मास्टर विजय सिंह को जबरन धरने से उठाना और मुकदमा दर्ज करना प्रशासन की तानाशाही-राकेश टिकैत

मास्टर विजय सिंह को कलेक्ट्रेट से जबरन धरने से उठाना और मुकदमा दर्ज करना प्रशासन की तानाशाही-राकेश टिकैत


मुजफ्फरनगर ज़िले का माहौल खराब कर रहे है कुछ अधिकारी,आंदोलनकारियों की साथ ऐसा दुर्व्यवहार शर्मनाक


      भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता किसानों के डेलिगेशन की साथ केरल में किसान सम्मेलन में गए हुए हैं उन्होंने मास्टर विजय प्रकरण का संज्ञान लेते हुए कहा कि मास्टर जी को जबरन धरने से उठाने बेहद शर्मनाक है और मास्टर जी पर धरने के दौरान अपने कपड़े सुखाने तक का मुकदमा सिविल लाइन थाने में लिखना  तानाशाही का परिचायक है जिन वस्त्रों के टांगने का मुकदमा दर्ज किया है वो जनपद में हजारों दुकानों पर सरेआम बाहर टँगकर बिकते हैं और ठेलियों पर बिकते हैं क्या प्रशासन उन सब पर मुकदमा लिखेगा कुछ अधिकारी इस ज़िले का माहौल खराब करना चाह रहे हैं भाकियू ऐसा नही होने देगी यह ज़िला प्यार मौहब्बत से चलता है ऐसे अधिकारी अपनी मानसिकता बदलें जनता में भय नही विश्वास पैदा करें
मास्टर जी के खिलाफ दर्ज मुकदमा खत्म नही हुआ तो प्रशासन के खिलाफ होगा आंदोलन।