मेरठ में सीएए व एनआरसी का नए तरीके से विरोध- प्रशासन ने नही दी इज़्ज़त तो अब बाइक से शुरू की मुहिम, ईदगाह के पेश इमाम की मुहिम अब पकड़ने लगी जोर


Shahvez khan


मेरठ l देश में जगह-जगह सीएए , एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन किया जा रहा है जिसमे देश के करोड़ो लोग इसे काला कानून बता कर इस कानून को वापस लेने की मांग कर रहे है । देश के कई हिस्सों में इस कानून के खिलाफ बड़े स्तर में प्रदर्शन हो रहे है जिसमे उत्तर प्रदेश में ही देवबन्द, कानपुर, लखनऊ में बड़े आंदोलन हो रहे है वही दिल्ली के शाहीन बाग के प्रदर्शन ने तो पूरी दुनिया की नज़रों को अपनी और मोड़ा है । रही छोटे शहरों की बात तो ज्यादा तर जगह लोगो को प्रदर्शन करने के लिए अब प्रशासन इज़ाज़त नही दे रहा है। जिसको लेकर अब लोग नए नए तरीके से विरोध करने लगे है । इसी को लेकर मेरठ में लिसाड़ी ईदगाह के इमाम करी अफ्फान ने भी नए तरीके से  अपनी मोटरसाइकिल पर सीएए एनआरसी के विरुद्ध स्टीकर लगा कर अपना विरोध दर्ज कराने की मुहिम चला दी है।जिसके बाद अब दूसरे लोग भी उनकी मुहिम को देख कर शान्ती पूर्ण तरीके से बाइक मुहिम में हिस्सा लेते दिख रहे है। करीमनगर के रहने वाले लिसाड़ी ईदगाह के पेश_ए_ईमाम कारी अफ्फान कासमी  अपनी मोटर साइकिल के फ्रंट साइड में  NO_CAA  तथा NO NPR लिखवा रखा है।जिसके माध्यम से वह अपना विरोध कर रहे है। कारी अफ्फान का कहना है कि नागरिकता कानून मुल्क के संविधान के खिलाफ है इसलिए जब भी हमने नागरिकता कानून के खिलाफ संवैधानिक तरीके से प्रोटेस्ट करने की परमिशन मांगी तो हमें नहीं मिली इसीलिए हमने यह मुहिम चलाई है ताकि हम भी सीएए के खिलाफ अपना विरोध दर्ज करा सकें। उन्होंने बताया कि उनकी इस पहल को शहर के कई लोगों ने अपनाकर अपनी मोटरसाइकिल पर नो सीएए नो एनआरसी के स्टीकर लगाए गए हैं  उन्होंने कहा कि हम कानून बनाने के खिलाफ नहीं है। लेकिन इसके लिए पहले सभी को विश्वास में लेना चाहिए , क्यों कि मोदी सरकार सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास का नारा लेकर आई है ।


Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद

चाऊमीन खिलाने के बहाने घर से बुलाकर ले गए युवक की दोस्तों ने ही सिर में गोली मारकर हत्या