हाइवे पर आग का गोला बनी कार तो फ़रिश्ता बनकर आई खाकी

 मुज़फ्फरनगर की थाना मंसूरपुर पुलिस और यूपी 112 डायल पुलिस एक महिला के लिए उस वक्त देवदूत बन गई।जब जनपद के नेशनल हाईवे 58 पर स्थित थाना मंसूरपुर की चौकी बेगराजपुर से चन्द कदमो की दूरी पर एक चलती कार में अचानक भयंकर आग लग गई आग लगी देख पुलिस कर्मी तुरन्त उस कार के पास पहुंचे और कार में फंसी एक महिला को बाहर निकालकर उसकी जान बचाई।पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मामला बीती देर रात्रि नेशनल हाईवे 58 का है जहां पर धौला पुल के पास अचानक एक चलती कार मे आग लगी गई ।आग लगने की घटना के समय वहां से गुजर रही यूपी 112 डायल और थाना मंसूरपुर की चौकी बेगराजपुर  पुलिस की नजर उस कार पर पड़ गई जिसके चलते तुरन्त ही पुलिस कर्मियों ने साहस का परिचय देते हुए उस जलती हुई गाड़ी से महिला को बाहर  निकालकर उसकी जान बचाई ।
मगर कार में भयंकर आग लगने के कारण कार को नही बचाया जा सका जिसके चलते  कार पूरी तरफ जलकर राख हो गई तथा उसमे महिला का सामान आदि भी जल गया।
उधर आग की सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष मंसूरपुर मनोज कुमार चाहल भी दल बल के साथ मोके पर पहुंचे और बदहवास हो रही महिला को महिला पुलिस कर्मियों के साथ चौकी पर ले जाकर उसे ढांढस बढ़ाया।
काफी देर बाद होश  में आने पर महिला ने अपना नाम कोमल भंडारी निवासी ऋषिकेश बताया और कहा की वह ऋषिकेश से दिल्ली जा रही थी की अचानक कार में आग लग गई ।   आग लगने से कार आग का गोला बन चुकी थी की अचानक मोके पर पहुंची पुलिस ने उसे बचा लिया वरना कोई अनहोनी भी हो सकती थी। जिसे सूचना पर पहुंची पुलिस ने कड़ी  मशक्कत के बाद  बाहर निकाला और उसकी जान बचाई।आग लगने के कारण हाईवे पर  दोनों तरफ जाम लग गया और   दोनों तरफ ही वाहनों की कतारे लग गई जिसे कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने खुलवाया ।बाद में पुलिस ने महिला के  परिजनों को मोके पर बुलवाकर महिला को उनके साथ आगे के लिए भेजा दिया।।