बेबी शो प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर नवजात बेबी पुत्री श्री रविकान्त, द्वितीय स्थान पर नवजात बेबी पुत्री श्री अनिल एवं तृतीय स्थान पर नवजात बेबी पुत्री श्री राधेश्याम रहे। बेबी शो प्रतियोगिता में प्रतिभाग करने वाले समस्त शिशुओं को उपहार एवं प्रशस्तिपत्र देकर पुरस्कृत किया गया

मुजफ्फरनगर में  चिकित्सा स्वास्थ्य परिवार कल्याण विभाग द्वारा जनपद में मनाये जा रहे नवजात शिशु देखभाल सप्ताह के अंतर्गत हेल्दी बेबी शो के आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में फूल से खिले बच्चों ने अपनी मुस्कान भरी प्रस्तुति के साथ सभी का दिल जीत लिया। बेबी शो में प्रतिभाग कर रहे बच्चों की माताएं भी अपने बच्चों की हंसी में बदलती मुस्कान को देखकर प्रफुल्लित दिखाई दी। इन माताओं ने इस आयोजन को मां और बच्चे के बीच स्नेह, स्पर्श, प्यार-दुलार का मंच बताया। 
शिशु मृत्यु दर में कमी लाने के उद्देश्य से राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत नवजात शिशुओं के संरक्षण की महत्ता के दृष्टिगत नवजात शिशु देखभाल सप्ताह 14 से 21 नवम्बर तक मनाया जा रहा है। जिसके अंतर्गत आज जिला महिला चिकित्सालय के 100 शैय्या युक्त मैटरनिटी विंग में हेल्दी बेबी शो प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें जन्म से लेकर एक वर्ष तक की आयु के सैंकड़ों बच्चों ने प्रतिभाग किया। 
डा0 अमिता गर्ग, मुख्य चिकित्सा अधीक्षिका जिला महिला चिकित्सालय ने बताया कि बेबी शो प्रतियोगिता में पुरस्कार हेतु चयन का आधार जन्म पंजीकरण, आयु के सापेक्ष वजन, टीकाकरण की स्थिति, जन्म के समय कोलोस्ट्रोम का महत्व, केवल स्तनपान छह माह की आयु तक तथा सामान्य परीक्षण रखा गया है। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 वी0के0 सिंह ने कहा सभी  माताओं को बताया कि शिशुओं को स्तनपान कराते समय ठीक तरीके से गोद में लेना चाहिए तथा उन्हें छहः माह तक स्तनपान के अलावा कोई भी उपरी आहार नहीं देना चाहिए। जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी पुष्पा रानी ने कहा कि बच्चे ईश्वर का अनमोल उपहार है। बालक और बालिका दोनों की समान देखरेख की जानी चाहिए तथा शिशुओं को 28 दिनों तक विशेष देखभाल एवं सुरक्षा की जरूरत होती है। 
बेबी शो प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर नवजात बेबी पुत्री श्री रविकान्त, द्वितीय स्थान पर नवजात बेबी पुत्री श्री अनिल एवं तृतीय स्थान पर नवजात बेबी पुत्री श्री राधेश्याम रहे। बेबी शो प्रतियोगिता में प्रतिभाग करने वाले समस्त शिशुओं को उपहार एवं प्रशस्तिपत्र देकर पुरस्कृत किया गया। सभी नवजात शिशुओं का स्वास्थ्य प्रशिक्षण बाल रोग विशेषज्ञ डा0 प्रेमा पन्त द्वारा किया गया। कार्यक्रम का संचालन जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी पुष्पा रानी ने किया। कार्यक्रम में उदयवीर सिंह, उप जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी, रमन सिंह, स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी, निर्मला एच0वी0, श्रीमती माया आदि का सहयोग रहा।