भाभी ने भाइयो संग मिलकर कराई थी युवा अधिवक्ता की हत्या, आज वकील नही करेगे अदालतों में काम काज

शामली में कचहरी से घर लौटते समय अधिवक्ता की हत्या पारिवारिक रंजिश का परिणाम निकली।म्रतक की भाभी ने अपने 2 भाइयों के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम दिया था। देर रात हत्या के इस मामले में नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।बीती शाम लगभग 7:30 बजे, अधिवक्ता  गुलज़ार को उन्हीं के भाई इस्तखार की पत्नी के इशारे पर पत्नी के ही भाइयों ने पारिवारिक कलह के चलते गोली मार मार कर हत्या कर दी थी।
इस पारिवारिक कलह (पति-पत्नी विवाद) में मृतक गुलज़ार जो कि पेशे से लॉ की प्रैक्टिस करते थे, अपने भाई का साथ दे रहे थे जिसके कारण भाई की पत्नी व साले मृतक से रंजिश रखने लगे थे।मृतक के भाई इस्तखार  ने अपनी पत्नी व अपने दो सालों व एक अन्य को नामज़द करते हुए तहरीर दी है। पुलिस ने तत्काल मुक़दमा दर्ज कर तेज़ी के साथ अपनी जाँच शुरू कर दी है; साथ हीअभियुक्तों की गिरफ़्तारी के लिए टीमें लगा दी गई हैं।इधर वरिष्ठ अधिवक्ता मुनव्वर अली ने बताया कि शामली के अधिवक्ता मोहम्मद गुलज़ार की हत्या के विरोध में वकील अदालतों में काम काज नही करेगे।
उन्होंने बताया की काज़ी गुलजार एडवोकेट निवासी गाँव सिक्का की हत्या के कारण दोनो बार संघ की संयुक्त शोक सभा फैंथम हाल मे आज दिनांक 24-10-2019 दिन बृहस्पतिवार समय 11-30 बजे होगी।  अधिवक्तागण न्यायालयों मे कोई न्यायिक कार्य नही करेंगे।


Popular posts from this blog

गोरखपुर के कलक्टर विजय किरण आनंद व SSP पर NHRC में केस दर्ज

शादी में दिखावे की हदे पार, लड़की पक्ष ने विवाह स्थल पर लगवाया फ्लैस्क, लिखा :- गाडी के साढे 7 लाख नकद दिए दूल्हे को

सिटी सेंटर में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, महिला सहित 5 अरेस्ट, 31 मोबाइल व नकदी बरामद