हर किसी का है सिर्फ यही पक्ष, बेहतर स्वास्थ्य को बनाओ अपना लक्ष्य


मुजफ्फरनगर। (रविता) अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर क्लेक्ट्रेट सभागार में पोषण अभियान के अंतर्गत शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन किया गया। जिसका उद्घाटन जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे ने फीता काटकर किया। इस दौरान सभी ने भारत में बच्चों, किशोरो और महिलाओं को कुपोषण मुक्त स्वस्थ और मजबूत करने का वचन लिया। और शपथ ली कि पोषण अभियान को एक देश व्यापी जन आंदोलन बनाएंगे। और हर घर, विद्यालय, गांव एवं शहर में सही पोषण की गूंज उठेगी। 
जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे ने सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को जागरुक करते हुए कहा कि हम माताओं बहनों को कुपोषण को खत्म करने के लिए सबसे पहले अपने परिवार से शुरुआत करनी होगी। क्योंकि यदि परिवार की महिलाएं ही कुपोषित होंगी तो पूरा परिवार बीमारी की चपेट में आ जाएगा। सरकार छोटे बच्चे जो आगे देश का भविष्य है उनके पोषण का ध्यान रख रही है। उन्होने कहा कि यही वह बच्चे है जो आगे युवा बनेगे अगर युवा ही कमजोर होगा तो जनपद, प्रदेश व देश का भविष्य कैसा होगा। इसलिए हमें इस और बहुत ध्यान देने की आवश्यकता है। खासकर 6 माह के बाद के बच्चों पर। पोषण पोषाहार की व्यवस्था को अधिक से अधिक मजबूत किया जाये जिससे कि जनपद को कुपोषण मुक्त हो सके। 
जिला कार्यक्रम अधिकारी वाणी वर्मा ने जनपद को कुपोषित मुक्त करने के हर संभव प्रयास का जिलाधिकारी को आश्वासन दिया। और कहा कि हम हर तबके की महिलाओं तक पहुंचकर जागरुक करने का प्रयास करेंगे। जिससे जनपद को कुपोषण मुक्त किया जा सके। उन्होंने बताया कि यह अभियान 8 मार्च से 22 मार्च तक चलाया जाएगा। कार्यक्रम के अंतर्गत किशोरियों के अंदर एनीमिया की बीमारी को रोकने के लिए खान-पान का विशेष ध्यान रखना प्रयास रहेगा। उन्होंने बताया कि महिलाओं को गर्भावस्था और प्रसव के बाद संतुलित एवं विटामिन युक्त भोजन की सबसे ज्यादा जरूरत होती है। मां- बच्चा दोनों ही स्वस्थ्य हो और दोनो का स्वास्थ्य बेहतर व अच्छा बना रहे। जिससे वह कुपोषण का शिकार न बन सके। इस तरह के कार्यक्रम से क्षेत्र की महिलाओं में भी स्वास्थ्य एवं पोषाहार के प्रति जागरूक हो जाती हैं।