स्वामी कल्याण देव डिग्री कॉलेज  बघरा में वाद विवाद  प्रतियोगिता का आयोजन

बघरा. स्वामी कल्याण देव डिग्री कॉलेज  बघरा में एक वाद विवाद  प्रतियोगिता का आयोजन किया गया  | सर्वप्रथम मुख्य अतिथि महाविद्यालय प्राचार्या रीना सहरावत, डा० फरहाना राणा (प्रवक्ता राजनीतिशात्र), डा० सतेन्द्र (प्रवक्ता हिंदी), डा० सत्याकांत (प्रवक्ता संस्कृत), डा० रश्मि तायल (प्रवक्ता अर्थशास्त्र), डा० प्रियंका (प्रवक्ता अंग्रेजी) ने स्वामी कल्याण देव की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए |
इसके बाद वाद विवाद प्रतियोगिता की शुरूआत हुई जिसकी थीम वस्तु एवं सेवा कर आर्थिक जगत के हित में है ।
प्राचार्या ने अपने संबोधन में कहा कि 1 जुलाई 2017 से पूर्व  किसी भी सामान पर केंद्र एवं राज्य सरकार के द्वारा कई तरह के अलग-अलग कर लगाती हैं लेकिन जीएसटी आने से सभी तरह के सामानों पर एक जैसा ही कर लगाया जाएगा पूर्व में  किसी भी सामान पर 30 से 35% तक कर देना पड़ता था  कुछ चीजों पर तो प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष रूप से लगाया जाने वाला कर 50% से ज्यादा होता था  जीएसटी आने के बाद यह कर अधिकतम 28 प्रतिशत  हो जाएगा जिसमें कोई भी अप्रत्यक्ष कर नहीं होगा जीएसटी भारत की अर्थव्यवस्था को एक देश एक कर वाली अर्थव्यवस्था बना देगा।  फिलहाल भारतवासी 17 अलग-अलग तरह के कर  चुकाते हैं जबकि  जीएसटी  लागू होने के बाद केवल एक ही तरह का कर दिया जाएगा इसके लागु होते ही एक्साइज ड्यूटी, सर्विस टैक्स, वैट, मनोरंजन कर,  लग्जरी कर जैसे बहुत सारे कर खत्म हो जाएंगे |
डा० रश्मि तायल (प्रवक्ता अर्थशास्त्र) ने अपने संबोधन में बताया कि वस्तुरओं और सेवाओं के मूल्यै के अनुपा‍ती एकल एवं पारदर्शी कर – केन्द्रट और राज्यों  द्वारा लगाए गए बहुल अप्रत्यंक्ष करों या मूल्यं संवर्धन के प्रगामी चरणों में उपलब्ध  गैर-इनपुट कर क्रेडिट के कारण आज देश में अनेक छिपे करों से अधिकांश वस्तुरओं और सेवाओं की लागत पर प्रभाव पड़ता है। जीएसटी के अधीन विनिर्माता से लेकर उपभोक्तावओं तक केवल एक ही कर लगेगा, जिससे अंतिम उपभोक्तान पर लगने वाले करों में पारदर्शिता को बढ़ावा मिलेगा।
प्रतियोगिता में टीम प्रथम स्थान कु आयशा व काजल  बी0 ए० तृतीय   और पक्ष में प्रथम नाज़रीन  बी0 एस0 सी०  प्रथम और विपक्ष में प्रथम पुरुस्कार कु सीमा बीकॉम प्रथम वर्ष और विशेष पुरुस्कार संदीप कुमार  बी0 एस0 सी०  प्रथम  ने प्राप्त किया ।
अंत में अर्थशास्त्र प्रवक्ता डॉ रश्मि तायल ने सभी अतिथियों का आभार व्यक्त किया |
कार्यक्रम को सफल बनाने में महाविद्यालय छात्र / छत्राओ के साथ  कु० सोनम  , कु नाज़रीन, रंधीर कुमार, अंकुर गर्ग,  धीरज कुमार,  डा० प्रियंका , डा० प्रदीप, श्री विपिन सैनी , श्री विक्रांत, राजपाल सिंह, शेखर शर्मा, बालेन्द्र कुमार, नरेन्द्र कुमार, ओमल,  श्रीमती मंतोष, श्रीमती सीमा  आदि उपस्थित रहे |