आधार कार्ड नही बना तो दे दी हर की पैड़ी को बम से उड़ाने की धमकी, धरा गया

_उत्तराखण्ड के सीएम के निजी मोबाइल फोन पर कॉल कर हरकी पैड़ी को पेट्रोल बम से उड़ा देने की धमकी देने वाले युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया पुलिस पुछताछ मे युवक ने आधार कार्ड न बनने से खिन्न होकर यह हरकत की थी।_सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के मोबाइल फोन पर आई एक कॉल ने सभी को हिलाकर रख दिया था। उस वक्त फोन सीएम के प्रोटोकॉल अधिकारी आनंद सिंह रावत के पास था। उन्हीं की ओर से इस संबंध में  हरिद्वार कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया था।_
👉🏻 _मोबाइल फोन बरामद_
_मुकदमा दर्ज होते ही हरकत में आई सीआईयू ने मोबाइल फोन नंबर के आधार पर रविवार देर शाम एक युवक केशवानंद नौटियाल पुत्र विद्यादत्त नौटियाल निवासी गांव आंताखोली चौलीसेंण कण्डारस्यू (जिला पौड़ी) हाल निवासी एमटी कालोनी प्रेमनगर, देहरादून को हिरासत में ले लिया।_
_उसके कब्जे से धमकी में इस्तेमाल किए गए मोबाइल फोन को भी बरामद कर लिया। देर रात तक सीआईयू कार्यालय में आला अफसरान ने बारी बारी से युवक से लंबी पूछताछ की। पता चला कि केशवानंद का आधार कार्ड नहीं बना है। वह जहां भी नौकरी के लिए जाता है, उससे इसकी मांग की जाती है। कई बार कोशिश के बावजूद उसका कार्ड नहीं बन सका। इससे व्यथित होकर उसने सीधे सीएम के नंबर पर ही कॉल कर धमकी दे दी।_
👉🏻 _इलाहाबाद के युवक से मिला नंबर_
_पूछताछ में आरोपी केशवानंद नौटियाल ने बताया कि सीएम का नंबर उसे बॉबी नाम के युवक ने दिया था, जो उसे इलाहाबाद में मिला था। कोतवाली प्रभारी प्रवीण सिंह कोश्यारी ने बताया कि आरोपी हाल ही में इलाहाबाद से लौटा है। उसके तीन बच्चे और पत्नी गांव में ही रहते हैं, जिनसे उसका दो साल से कोई संपर्क नहीं है।_
_आरोपी ने बताया कि 2016 में आधार कार्ड न बन पाने के कारण वह पौड़ी में आयोजित मुख्यमंत्री जनता दरबार में गया था। उचित कार्रवाई न होने के चलते गुस्से में उसने 17/02/2016 के दिन श्रीनगर थाना में फोन कर सीएम को नुकसान पहुंचाने की बात कही थी। उसके बाद पुलिस ने लुधियाना से गिरफ्तार कर उसे जेल भेज दिया था।_
👉🏻 _41 सीआरपीसी का नोटिस_
_करीब एक साल सजा काटने के बाद आरोपी इलाहाबाद चला गया। एक हफ्ते पहले वह हरिद्वार आया। आधार कार्ड न होने के कारण केशवानंद को स्थायी काम नहीं मिल रहा था। जिस कारण वह मजदूरी कर जीवन यापन कर रहा था। इससे वह काफी परेशान हो गया था। और इसी गुस्से में उसने हरकी पैड़ी को उड़ाने की धमकी दी।_
_आरोपी की पत्नी और तीन बच्चे हैं। लेकिन दो साल से वह उनके संपर्क में नहीं है। गांव में भी प्रधान सहित कुछ अन्य लोगों के साथ विवाद चल रहा है। आरोपी को 41 सीआरपीसी का नोटिस दिया है। पारिवारिक/व्यक्तिगत परेशानियों से तनाव में आरोपी की काउंसिलिंग कराने की जरूरत है।_
_पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया था_
_वाकया शाम का है। सीएम के मोबाइल फोन पर एक कॉल आई। कॉल उनके प्रोटोकॉल अधिकारी आनंद सिंह रावत ने रिसीव की। दूसरी तरफ से बात कर रहे शख्स ने हरकी पैड़ी को पेट्रोल बम से उड़ाने की धमकी देते ही बगैर और कुछ कहे फोन काट दिया।_
_प्रोटोकॉल अधिकारी ने इस संबंध में तुरंत देहरादून के एसएसपी अरुण मोहन जोशी को जानकारी दी। सीएम के मोबाइल फोन पर आई इस धमकी के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। देहरादून पुलिस की ओर से हरिद्वार के एसएसपी सेंथिल अबुदई कृष्णराज एस से संपर्क साधा गया। देर शाम इस संबंध में प्रोटोकॉल अधिकारी की ओर से अज्ञात आरोपी के खिलाफ प्रभावी धाराओं में केस दर्ज करा दिया गया।_